Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

दिल्ली पुलिस को मिली बड़ी सफलता, स्नैचिंग और रॉबरी करने वाले दो कुख्यात बदमाश गिरफ्तार

दिल्ली में सनसनीखेज अपराध में शामिल दो कुख्यात अपराधियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. अपराधियों पर 106 से ज्यादा मामले दर्ज हैं.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के शाहदरा जिले के ऑपरेशन सेल और पीएस अपराधियों की टीम सीमापुरी ने बेहद सनसनीखेज अपराध में शामिल दो कुख्यात अपराधियों को गिरफ्तार किया है. अपराधी पिछले 106 मामलों में संलिप्त थे, जिसमें ज्यादातर मामले रॉबरी और चैन स्नैचिंग के हैं. हाल ही में इन अपराधियों ने दिल्ली के आनंद विहार में एक महिला के बैग को लूटा जिस दौरान महिला के सिर पर गंभीर चोट आई है और वो फिलहाल गंभार हालत में हैं.

दरअसल 40 वर्ष की महिला अपनी रिश्तेदार के साथ क्रॉस रिवर मॉल से निकलकर ई रिक्शा में बैठी थीं, अचानक पीछे से दो लोग बाइक पर धीमी गति से आए और उनका बैग खींच कर ले गए. महिला ने इन चोरों से बैग बचाने की कोशिश की लेकिन बाइक सवार अपराधियों ने अपनी बजाज पल्सर 220 सीसी की गति तेजी से बढ़ा दी जिसके कारण महिला सिर के बल नीचे गिर गई और उन्हें गंभीर चोटें आई. फिलहाल महिला पूर्वी दिल्ली के एक अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही हैं.

फिलहाल शाहदरा जिले के ऑपरेशन सेल ने एक साल से सक्रिय दो कुख्यात अपराधियों को हिरासत में ले लिया है. हाल ही में दोनों अपराधी दिल्ली के आनंद विहार स्थित क्रॉस रिवर मॉल के सामने से महिला का बाग लेकर फरार हुए थे. बाइक पर सवार इन अपराधियों की तेज रफ्तार बाइक के कारण महिला सर के बल गिरी जिसके कारण उन्हें गंभीर चोटे आई हैं और फिलहाल अस्पताल में एडमिट हैं.

पुलिस को जानकारी मिलने के बाद सीसीटीवी कैमरा खगाले गए और जांच के बाद मुकदमा दर्ज किया. ऑपरेशन में पुलिस ने जांच करनी शुरू की और कम से कम 70 किलोमीटर के हर मोड और सड़क इत्यादि के करीब 500 सीसीटीवी फुटेज खंगाले. पुलिस की एक टीम मेरठ एक्सप्रेसवे जांच करते हुए पहुंची और वैशाली, गाजियाबाद तक भी जांच का दायरा फैलाया गया तो पाया गया कि ये लोग महिलाओं को टारगेट करते थे खास कर उन महिलाओं को जो पैदल या रिक्शा में चलती हैं.

डीसीपी शाहदरा आर. साथियासुंदरम के अनुसार "दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे, 6 मॉल पर हमारी टीम लगाई गई. 11 फरवरी को लाल और काले रंग की पल्सर को हमने सराय काले खां के पास स्पॉट किया. क्रिमिनल ने ट्रैफिक को देखते हुए रास्ता बदल दिया और यमुना ब्रिज की तरफ आगे बढ़े लेकिन वहां भी हमारी टीम मौजूद थी. जहां से इन अपराधियों को पकड़ने में सफलता हासिल हुई. जिनके पास से 1 कट्टा, जिंदा कारतूसों का बैग भी बरामद किया गया है."

साथियासुंदरम के अनुसार ये अपराधी राजमार्गों/चौराहों पर चोरी और डकैती करते थे. इस मामले में आगे की जांच की जा रही है. फिलहाल पुलिस को महिला का भूरे रंग का हैंड बैग इन अपराधियों से बरामद हो गया है, जिसमें पीड़ित का आधार कार्ड भी था. बताया जा रहा है कि गिरफ्तार अपराधी मनीष और मोहित के ऊपर 106 मामले दर्ज हैं, जिनमें ज्यादातर स्नैचिंग और रॉबरी है. इतना ही नहीं अपराधी मनीष के ऊपर 50 हजार का इनाम भी था.

Post a Comment

0 Comments