Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Panjabi Singer: सिद्धू मूसेवाला की मूर्ति दुलारते दिखे माता-पिता, बोले- कातिलों को मिल रही सुरक्षा

रविवार को पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के पैतृक गांव में उनकी याद में उनके चाहनेवालों ने मूसेवाला की मूर्ति लगाई. मूर्ति को छूकर सिद्धू मूसेवाला के माता-पिता उसे ऐसे दुलारने लगे, मानों वो अपने बेटे से ही प्यार कर रहे हो.


Panjab: रविवार को जब पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के पैतृक गांव में उनकी याद में उनके चाहनेवालों ने मूसेवाला की मूर्ति लगाई,तो उस मूर्ति को छूकर सिद्धू मूसेवाला के माता-पिता उसे ऐसे दुलारने लगे, मानों वो अपने बेटे से ही प्यार कर रहे हों. उनकी आंखों में अपने बेटे को खोने का दुख साफ नजर आ रहा था पर साथ ही वे दोनो अपने बेटे पर बहुत गर्व महसूस कर रहे थे.

सिद्धू की मूर्ति दुलारते हुए उन्हें इस बात का भी ऐहसास था कि उनका बेटा अब इस दुनिया से कुछ इतना दूर जा चुका है कि वहां से लौट कर आना किसी के लिए भी मुमकिन नहीं है.शायद तभी उन्होंने मूर्ति को दुलारा तो ज़रूर,मगर फिर अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख पाए.गायक के पिता बलकौर सिद्धू और माता चरण कौर ने अपने गांव में गायक की मूर्ति स्थापित करते वक्त कहा कि उनके बेटे की छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है.

सिद्धू की मां का वायरल वीडियो पर रिऐक्शन
सोशल मीडिया पर लॉरेंस बिश्नोई गैंग के गोल्डी बराड़ की वीडियो वायरल हो रही है. सिद्धू की मां ने वीडियो  को देखकर कहा कि "जिस बंदे ने जमीन से उठकर तरक्की की हो, उसमे अहंकर होता है.मैं आज फर्क महसूस करती हूं कि मेरा बेटा बहादुर था,शेर था,जिसके लिए आज पूरी दुनिया इकठ्ठा है. जिसके लिए मां, बच्चें,बुज़ुर्ग,सब रोते हैं. मुझे उसपर गर्व है.वो बसदिल है जो फेसबुक पर बकवास कर रहा है. वो साफ झूठ बोल रहा है. सिद्धू की तस्वीर खराब करने की कोशिश की जा रही है. वो शेर माँ का शेर बेटा था.आज मुझे आकर लोग सम्मान करते हैं,लेकिन गोल्डी बराड़ की मां को लोग कोस्ते हैं."

सिद्धू के पिता का वायरल वीडियो पर रिऐक्शन
सिद्धू के पिता ने भी अपनी भावनाओं को लोगों के सामने जाहिर करते हुए कहा कि सिद्धू चला गया लेकिन वो पिचे कफी सवाल छोड़ गया है.हुकुमत के लोगों को ये याद रखना पडे़गा कि क्या तरक्की करने का यही हश्र होता हैं ? वो टीवी चैनल पर बैठकर कहता है कि मुझे सिद्धू को मारना था, मैंने मार दिया, फिर उन्हें सुरक्षा क्यों दी जा रही है. कोर्ट में पेशी के वक्त मुजरिमों को 200 पुलिसकर्मियों के साथ और बुलेटप्रूफ गाड़ियां में क्यों भेजा जा रहा हैं. जब बेटे को इतनी सुरक्षा नहीं मिली तो मुजरिमों को क्यों मिल रही है."

यह भी पढ़ें:हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें  Nukkad Live Letest News पर।

Post a Comment

0 Comments