Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Jharkhand Cash Case : झारखंड कैश कांड में तीन आरोपी विधायकों समेत पांच गिरफ्तार, इस एक्ट के तहत पुलिस ने लिया एक्शन

झारखंड कैश कांड में आरोपी तीन विधायकों समेत पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. रात भर पूछताछ के बाद पुलिस ने यह एक्शन लिया.

झारखंड कैश कांड में पुलिस ने तीनों आरोपी विधायकों को गिरफ्तार कर लिया है. मिली जानकारी के अनुसार विधायकों से 49 लाख 98 हजार 300 रूपए मिले है. पुलिस ने बताया कि इस पूरी जांच की पूरी वीडियोग्राफी हुई है.  झारखंड के तीनों विधायकों के साथ  ड्राइवर और एक और व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. रात भर चली पूछताछ के बाद सही जवाब नहीं दे पाने के कारण इन पांचों को गिरफ्तार गया है. पुलिस ने शनिवार को तीन विधायकों-  इरफान अंसारी, राजेश कच्चाप और नमन बिक्सल कोंगरी की गाड़ी में जांच के दौरान लाखों नकदी बरामद किया था. 

इससे पहले तीन कांग्रेस विधायकों डॉ इरफान अंसारी, नमन विक्सल कोंगरी और राजेश कच्चाप को पार्टी ने सस्पेंड कर दिया है. झारखंड कांग्रेस के प्रभारी और पार्टी के केंद्रीय महासचिव अविनाश पांडेय ने यह जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि तीनों विधायकों पर लगे आरोपों के मद्देनजर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने यह फैसला लिया है.


सरकार गिराने की कोशिश के आरोप में एफआईआर दर्ज
इस बीच कांग्रेस के बेरमो क्षेत्र के विधायक अनूप सिंह ने रविवार सुबह 11 बजे इन तीनों विधायकों के खिलाफ रांची के अरगोड़ा थाने में राज्य की सरकार को गिराने की साजिश के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई.

बता दें कि शनिवार की देर शाम झारखंड के तीन कांग्रेस विधायकों डॉ इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन विक्सल कोंगाड़ी को पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिला अंतर्गत पंचला थाना के रानी हाट में नोटों के बैग के साथ पकड़ा गया था. देर रात नोटों की गिनती हुई तो कुल रकम 48 लाख रुपये पायी गयी. ये तीनों विधायक दो अन्य सहयोगियों के साथ एक एसयूवी में जा रहे थे.

पश्चिम बंगाल की पुलिस ने खुफिया इनपुट के आधार पर इन्हें चेकिंग के दौरान पकड़ा. इस एसयूवी पर झारखंड के जामताड़ा विधायक का बोर्ड लगा था. खबर है कि पुलिस हिरासत में लिये गये तीनों विधायक गाड़ी से मिले कैश के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं दे सके.


कांग्रेस विधायक ने कही ये बात
झारखंड कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि कांग्रेस संविधान की परंपरा है कि पार्टी के कोई भी विधायक अगर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल पाये जाते हैं, तो उन्हें तत्काल ही सस्पेंड कर दिया जाता है. संविधान के नियम के तहत ही तीनों विधायकों को सस्पेंड किया गया है. अब पूरे मामले की छानबीन की जा रही है. उनसे भी पूछताछ की जायेगी. जांच में जो भी बात सामने आएगी, पार्टी आगे उसी स्तर पर कार्रवाई करेगी.

इधर कांग्रेस के एक अन्य विधायक अनूप सिंह की शिकायत है कि ये तीनों विधायक झारखंड की सरकार को गिराने की साजिश में लिप्त हैं. पश्चिम बंगाल में भारी मात्रा में कैश के साथ पकड़े जाने से यह साफ हो गया है कि पैसों की बदौलत सरकार को गिराने की साजिश की जा रही है. उन्होंने रांची के अरगोड़ा थाने में इस बाबत लिखित तहरीर दी है, जिसके आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली गयी है. एफआईआर दर्ज कराने पहुंचे विधायक अनूप सिंह के साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर भी थे

Post a Comment

0 Comments