Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Nupur Sharma Murder Conspiracy: नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश नाकाम, पाकिस्तानी घुसपैठिया गिरफ्तार; सामने आया खतरनाक इरादा

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश का चौंका देने वाला मामला सामने आया है. राजस्थान पुलिस ने श्रीगंगानगर में पाक घुसपैठिये को गिरफ्तार करते हुए ये बड़ा खुलासा किया.


भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद (S.A.W) पर दिए कथित बयान को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा. अब इस मामले में राजस्थान पुलिस ने चौंका देने वाला खुलासा किया है. राजस्थान के श्रीगंगानगर में भारत-पाक सीमा पर पुलिस ने घुसपैठिये को गिरफ्तार करते हुए नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश का चौंका देने वाला खुलासा किया. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा को मारने के लिए पाकिस्तान से यह घुसपैठिया भारत पहुंचा था. उस समय यह भी सूचना मिली थी कि यह व्यक्ति हिंदुमलकोट सेक्टर स्थित खाखान चेक पोस्ट से देश की सीमा में घुसने की कोशिश कर रहा था. पाकिस्तान में पंजाब के मंडी बहाउद्दीन के रहने वाले अशरफ को लेकर अब चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं.


ऐसे बनाई नूपुर शर्मा को मारने की योजना

अशरफ के भारत में घुसने के पीछे की मंशा बेहद खतरनाक थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीएसएफ की पूछताछ में खुलासा हुआ है कि यह घुसपैठिया बीजेपी की निलंबित नेता नूपुर शर्मा को मारना चाहता था. पैगंबर मोहम्मद (S.A.W) को लेकर नूपुर शर्मा के बयान से अशरफ आहत था. आशंका यह भी जताई जा रही है कि भारत में घुसकर अशरफ श्रीगंगानगर से अजमेर दरगाह जाना चाहता था. यहां चादर चढ़ाकर उसने नूपुर शर्मा को मारने की योजना बनाई थी. आठवीं तक पढ़ाई करने वाला अशरफ उर्दू, पंजाबी और हिंदी भाषा जानता है.


पाकिस्तान में मौलवियों की बैठक!

कहा जा रहा है कि नूपुर शर्मा के बयान के बाद पाकिस्तान में मौलवियों की बैठक हुई. इस बैठक में अशरफ रिजवान भी शामिल था. इस बैठक के बाद ही उसने नूपुर शर्मा को मारने का इरादा बना लिया था. घुसपैठिए के पास कुछ धार्मिक किताबें और दो चाकू भी बरामद हुए हैं. आरोपी से पूछताछ में और भी कई बड़े खुलासे हो सकते हैं.


नूपुर शर्मा को लगातार मिल रही धमकियां

बता दें कि नूपुर शर्मा को लगाता रेप और मर्डर की धमियां मिल रही हैं. इस बीच उन्हें सुप्रीम कोर्ट से भी आज मंगलवार को बड़ी राहत मिली. पैगंबर के खिलाफ बयान देकर विवादों में घिरी शर्मा के खिलाफ देश के कई हिस्सों में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. अदालत ने फिलहाल उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है.


सुप्रीम कोर्ट से मिली बड़ी राहत

नूपुर ने अपनी याचिका में देश भर में दर्ज विभिन्न मामलों को दिल्ली हाईकोर्ट ट्रांसफर करने की मांग की थी और गिरफ्तारी पर रोक लगाने की भी गुहार लगाई थी. सुप्रीम कोर्ट में मामले की अगली सुनवाई 10 अगस्त को होगी. कोर्ट ने आदेश दिया है कि मामले की अगली सुनवाई तक नूपुर शर्मा पर कोई कार्रवाई नहीं होगी.


ये भी पढ़ें:हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें Nukkad Live Letest News पर।

Post a Comment

0 Comments