Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

मुंबई मेट्रो लाइन- 3 का ट्रायल रन: 33.5 किलोमीटर के सफर में कुल 27 स्टेशन होंगे

मेट्रो का सफर सारिपुट नगर से मरोल नाका तक है, जिसमें 8 कोच की प्रोटोटाइप ट्रेन सिप्ज एमआईडीसी और मरोल नाका तक दौड़ेगी. 12 किलोमीटर का पहला फेस दिसंबर 2023 तक, दूसरा फेस यानी पूरा रूट जून 2024 तक पूरा होने की उम्मीद है.


मुंबई की कोलाबा-बांद्रा-एसईईपीजेड ​​मेट्रो लाइन 3 ( भूमिगत मेट्रो) का आज से पहला ट्रायल हुआ. मुख्यमंत्री  एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस 8 कोच वाली प्रोटोटाइप ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर ट्रायल रन की शुरुआत की. अभी सिर्फ 33.5 किलोमीटर का ट्रायल रन होगा. इसमें  कुल 27 स्टेशन होंगे उसमें से सिर्फ एक जमीन के ऊपर होगा बाकी सभी स्टेशन जमीन के अंदर होंगे.  यह लाइन दक्षिण मुंबई के कोलाबा को महानगर के पश्चिमी उपनगरों से जोड़ेगी.एक अनुमान है कि इसमें हर रोज 17 लाख लोग यात्रा करेंगे.इस ट्रेन का कुछ परिक्षण आंध्रप्रदेश के श्री सिटी में भी किया गया था.

बता दें कि शिंदे-फडणवीस सरकार ने संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान से सटी वन भूमि ‘आरे' में मेट्रो कार शेड के निर्माण का फैसला पलट दिया था. 

दरअसल, पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले महीने राज्य की नयी सरकार से आरे में कार शेड के निर्माण की योजना पर आगे बढ़कर ‘मुंबई के दिल में छुरा न घोंपने' की अपील की थी. इसका सफर सारिपुट नगर से मरोल नाका तक होगा, जिसमें 8 कोच की प्रोटोटाइप ट्रेन सिप्ज एमआईडीसी और मरोल नाका तक दौड़ेगी. 12 किलोमीटर का पहला फेस दिसंबर 2023 तक, दूसरा फेस यानी पूरा रूट जून 2024 तक पूरा होने की उम्मीद है.

Post a Comment

0 Comments