Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

अदालत में 'उस महिला' को पेश करने के लिए फर्जी ज़मानत; पुलिस मुस्कुराई 'ऐसे'

 अदालत में 'उस महिला' को पेश करने के लिए फर्जी ज़मानत; पुलिस मुस्कुराई 'ऐसे'



पुलिस ने आरोपियों के पास से 5 पहचान पत्र, 3 राशन कार्ड, 2 चुनाव पहचान पत्र, ग्राम पंचायत के 3 फर्जी दस्तावेज और 5 मोबाइल फोन जब्त किए हैं.

कल्याण : हमने कई बड़े ठगों को झूठे दस्तावेज बनाते हुए देखा है. लेकिन कल्याण में पुलिस ने फर्जी दस्तावेज बनाकर कोर्ट को सीधे तौर पर ठगने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. पहले फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल किया गया, फिर उनके आधार पर फर्जी गारंटर भी खड़े किए गए। 

कल्याण की महात्मा फुले पुलिस को इस हेराफेरी की सूचना मिली थी. इसके बाद पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है । इस गिरोह के 2 और लोगों की तलाश की जा रही है। खास बात यह है कि इस गिरोह में चार महिलाएं भी शामिल हैं। इनमें से तीन महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी महिलाएं उल्हासनगर की रहने वाली हैं। एक महिला फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

जमानत के लिए 25 से 30 हजार लेना चाहता था गिरोह

गिरफ्तार आरोपियों के नाम सिद्धार्थ नागवेकर, जसमीत कौर उर्फ ​​डिंपल करतार सिंह गिल, ममता अनुपम हाजरा, गीतिका सागर उदासी हैं. विभिन्न अपराधों में सजा काट रहे अभियुक्तों को समय पर जमानत के दस्तावेज नहीं मिलने से इन आरोपियों की सजा लंबी हो जाती है. गिरोह ऐसे आरोपियों के परिजनों की जासूसी करता था और उन्हें जमानत के लिए जरूरी दस्तावेज मुहैया कराता था और उनसे 25 से 30 हजार रुपये लेता था।

जाली दस्तावेजों के आधार पर मिली थी जमानत

उल्हासनगर निवासी सिद्धार्थ नागवेकर तीन अन्य आरोपियों के साथ फर्जी नाम व पते का इस्तेमाल कर राशन कार्ड, आधार कार्ड और ग्राम पंचायत आवास प्रमाण पत्र बनाकर इन फर्जी दस्तावेजों के आधार पर आरोपी को वेलफेयर कोर्ट में जमानत दे रहा था.

गंभीर अपराधों के आरोपियों के लिए दस्तावेज तैयार करने के लिए 30,000 रु

ये दस्तावेज गंभीर अपराधों के आरोपियों को 30 हजार रुपए में उपलब्ध कराए गए थे। इस तरह अपराधियों को जमानत देने के लिए कोर्ट परिसर में यह संगीन हरकत कर गिरोह अपनी जेब गर्म कर रहा था.

पुलिस ने जाल बिछाकर चार लोगों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने इसकी सूचना पाकर कल्याण कोर्ट में जाल बिछाया और चारों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों के पास से 5 पहचान पत्र, 3 राशन कार्ड, 2 चुनाव पहचान पत्र, ग्राम पंचायत के 3 फर्जी दस्तावेज और 5 मोबाइल फोन जब्त किए हैं.

पुलिस ये दस्तावेज बनाने वाले दो लोगों की तलाश कर रही है। लेकिन कोर्ट परिसर में इस तरह की धोखाधड़ी चल रही है, जिससे हैरानी जताई जा रही है. (जाली दस्तावेज के जरिए कोर्ट से ठगी करने वाला गिरोह कल्याण में गिरफ्तार)

Post a Comment

0 Comments