Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Maharashtra: 'तुम्हारा भी उमेश कोल्हे करना पड़ेगा', कहते हुए युवक पर टूट पड़े दर्जनभर हमलावर, किया तलवार से वार

महाराष्ट्र के अहमदनगर नें एक शख्स पर दर्जनभर लोगों ने बेरहमी से हमला कर दिया. कहा जा रहा है कि शख्स ने नूपुर शर्मा और कन्हैयालाल का समर्थन किया था.

महाराष्ट्र (Maharashtra) के अहमदनगर (Ahmednagar) में कुछ लोगों द्वारा एक शख्स पर तलवार से हमला किए जाने का मामला सामने आया है. कहा जा रहा है कि शख्स ने बीजेपी (BJP) की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) और कन्हैयालाल (Kanhaiyalal) का समर्थन सोशल मीडिया (Social Media) पोस्ट के जरिये किया था. घायल शख्स का नाम प्रतीक पवार (Prateek Pawar) उर्फ सनी है. उसने और उसके एक दोस्त अमित माने (Amit Mane) ने पुलिस (Police) को वारदात के बारे में बयान दिया है. पुलिस को दिए बयान में कहा गया है कि अहमदनगर में चार अगस्त को 23 साल के सनी पवार पर 12 से 15 युवकों ने जानलेवा हमला किया. 

अमित माने ने अपने बयान में बताया कि चार अगस्त को वे अहमदनगर में कर्जत की तरफ जा रहे थे और बीच रास्ते में अक्काबाई चौक के पास रुककर अपने दोस्तों का इंतजार करने लगे, तभी अचानक एक सफेद रंग की स्विफ्ट कार, काले रंग की बुलेट, लाल रंग की पल्सर और एक सफेद रंग की स्कूटी पर सवार होकर आए 12 से 14 युवकों ने उन्हें घेर लिया. माने ने बताया कि इन युवकों ने सनी पवार से कहा, ''तुम्हें अपने  हिंदुत्व का बड़ा कीड़ा है.'' माने के मुताबिक, बाद में मुस्लिम युवकों ने यह भी कहा, ''तुम लगातार नूपुर शर्मा और कन्हैयालाल के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट और स्टेटस लगा रहे हो, जिसकी वजह से कई और लोग इनके समर्थन में खड़े होने लगे हैं, लगता है तुम्हारा भी उमेश कोल्हे करना पड़ेगा.'' 


पुलिस में दर्ज एफआईआर में यह कहा गया

पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, तीखी बयानबाजी के बाद शाहरुख खान पठान नाम के शख्स ने सनी को मारने के इरादे से तलवार से हमला कर दिया, जिसके बाद सनी ने अपने आपको बचाने की कोशिश की लेकिन तलवार उसके हाथ पर लग गई. इसके बाद पीछे से निहाल खान पठान और सोहेल खान पठान ने कोलते से सनी के सिर पर हमला कर दिया. हमले से घायल सनी नीचे गिर गया और उसके सिर से खून बहने लगा. घायल सनी पर हमला जारी रहा और हमलावर कह रहे थे कि इस काफिर को जिंदा नहीं छोड़ना है. सिर पर तलवार से हमले के बाद सनी बेहोश हो गया और हमलावर मौके से फरार हो गए. पुलिस ने फिलहाल आईपीसी की 307, 143, 147, 148, 149 , 323, 504 धाराओं में मामला दर्ज किया है.


घायल सनी पवार के खिलाफ भी दर्ज हैं तीन मामले

सनी पवार के भी खिलाफ पुलिस में तीन मामले दर्ज हैं. पहला मामला सात जनवरी 2019 में आईपीसी की धारा 160 के तहत दर्ज हुआ था. दूसरा मामला 27 फरवरी 2022 में आईपीसी की धारा 324 के तहत दर्ज हुआ था. इसके बाद लोकल पुलिस ने सनी पवार को 18 अप्रैल को दो महीने के लिए तड़ीपार कर दिया था. तीसरा मामला तीन जुलाई 2022 आईपीसी की धारा 324 के तहत दर्ज हुआ था. सनी पवार पर आरोप है कि उसने जूनैद जावेद नाम के शख्स पर ईट से हमला कर दिया था, जिससे उसका सिर पर गंभीर चोट आई थी. इसके बाद पुलिस ने सनी को 16 जुलाई से लेकर 30 जुलाई तक फिर से तड़ीपार कर दिया था. 

जब सनी वापस आया तब जूनैद और उसके भाइयों ने मारपीट का बदला लेने के लिए सनी को घेरा और उसे मारा. फिलहाल लोकल क्राइम ब्रांच ने जूनैद खान पठान और जैद पठान को हिरासत में लिया है. अब तक इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है

Post a Comment

0 Comments