Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Pakistan: एक तिहाई पाकिस्तान डूबा, तीन करोड़ से ज्यादा लोग बेघर, 1100 से ज्यादा की मौत, देखें 10 तस्वीरें

 Pakistan: एक तिहाई पाकिस्तान डूबा, तीन करोड़ से ज्यादा लोग बेघर, 1100 से ज्यादा की मौत, देखें 10 तस्वीरें.


पाकिस्तान में बाढ़ का कहर टूट पड़ा है। एक तिहाई पाकिस्तान पूरी तरह से डूब चुका है। गली-मोहल्ले पानी-पानी हो गए हैं। सिंध से लेकर बलूचिस्तान तक कई राज्यों में हालात बेहद खराब है। अब तक 1,100 से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। तीन करोड़ से ज्यादा लोग बेघर हो चुके हैं। 

आलम ये है कि अब लोग भूखे सोने को मजबूर हैं। स्थिति लगातार भयावह होती जा रही है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले 24 घंटे के अंदर 75 लोगों ने दम तोड़ दिया। 59 की हालत गंभीर है।

पाकिस्तान में आई बाढ़ के कारण मरने वालों की संख्या 1,136 पहुंच गई है। ये आंकड़े सरकारी हैं। हालांकि, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अब तक 2,500 से भी ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। बाढ़ के चलते 3.3 करोड़ लोगों को घर छोड़ना पड़ा है। ये आंकड़ा पाकिस्तान की आबादी के करीब सातवें हिस्से के बराबर है। तीन हजार से ज्यादा लोग घायल हैं।

पाकिस्तान के नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (NDMA) हर रोज रिपोर्ट जारी करता है। मंगलवार की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटे के अंदर बाढ़ के चलते 75 लोगों ने जान गंवा दी। 54 लोग घायल बताए जा रहे हैं। इनका इलाज अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है। पाकिस्तानी जलवायु परिवर्तन मंत्री शेरी रहमान ने इसे "दशक का सबसे भयावह मानसून' कहा है। मंगलवार को भी यात्रियों से भरी एक बस पानी में बह गई। घटना के वक्त बस में 40 लोग सवार थे।

पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल ने बाढ़ को लेकर बयान जारी किया है। उन्होंने कहा कि बाढ़ के कारण पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को 10 अरब अमेरिकी डॉलर तक का नुकसान हुआ है। करीब 10 लाख घर पूरी तरह या आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। करोड़ों लोगों को पीने के लिए साफ पानी नहीं मिल रहा। इसके साथ ही करीब 7.19 लाख पशु भी मारे गए हैं और लाखों एकड़ उपजाऊ भूमि लगातार बारिश से जलमग्न हैं।

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चारों तरफ सड़कें टूट गईं हैं। ब्रिज टूट गए हैं। कई जिलों का संपर्क टूट गया है। लोगों को बिजली, पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है। सबकी सप्लाई ठप हो चुकी है।

पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोग फंस गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, खैबर पख्तूनख्वा में 10 हजार से ज्यादा गांव का कनेक्शन पाकिस्तान के अन्य इलाकों से पूरी तरह से टूट गया है। यहां फंसे लोगों को रेस्क्यू करने के लिए पाकिस्तानी एयरफोर्स की मदद ली जा रही है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे लोगों को हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू कराया जा रहा है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने हालात पर चिंता जाहिर की है। शहबाज ने दुनियाभर से मदद मांगी है। संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के सेक्रेटरी जनरल के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा  कि पाकिस्तान में लगातार बारिश हो रही है। ऐसे में स्थिति और भी ज्यादा खराब हो सकती है। पाकिस्तान की तरफ से 160 मिलियन डॉलर फंड की मांग भी यूएन से की गई है।

पाकिस्तान में बाढ़ से मची भीषण तबाही पर भारत ने पड़ोसी देश के लोगों के प्रति संवेदना जताई है। पीएम मोदी ने संकट की इस घड़ी में आपसी मतभेदों से इतर मानवीय रुख दर्शाया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ट्वीट में कहा, पाकिस्तान में बाढ़ से हुई तबाही को देखकर दुखी हूं। हम पीड़ितों, घायलों और इस प्राकृतिक आपदा से प्रभावित सभी लोगों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हैं। साथ ही सामान्य स्थिति की शीघ्र बहाली की आशा करते हैं।

Post a Comment

0 Comments