Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Pakistan: पाकिस्तान में शख्स को तिरंगा फहराने से रोका, यूनिवर्सिटी में आयोजित हुआ था कार्यक्रम

 Pakistan: निश्तार यूनिवर्सिटी (Nishtar Medical University) के इस कार्यक्रम का वीडियो गुलाम अब्बास शाह नाम के एक शख्स ने ट्वीट किया है. इसमें उन्होंने बताया कि मेडिकल यूनिवर्सिटी में वंदे मातरम के साथ स्टेज पर तिरंगा फहराया जा रहा था.


पाकिस्तान अपने पड़ोसी देश भारत की सेनाओं से डरता है ये तो जगजाहिर है. लेकिन इस बार पाकिस्तान भारत के तिरंगे से भी डर गया और उसे अपने देश में फहराने से रोक दिया. मुल्तान की निश्तार यूनिवर्सिटी में आयोजित संयुक्त राष्ट्र की मॉडल प्रतियोगिता में एक शख्स स्टेज पर तिरंगा लेकर फहराने लगा जिसके बाद वहां बवाल मच गया. 

कार्यक्रम में मौजूद कुछ लोगों के विरोध के बाद आयोजकों ने उसे तिरंगा झंडा फहराने से रोक दिया. कार्यक्रम में बॉलीवुड गाने पर वंदे मातरम की धुन पर यह शख्स तिरंगा फहराते हुए स्टेज पर चढ़ गया और यह कार्यक्रम शाहिदा इस्लाम कॉलेज के छात्रों की ओर से तैयार किया गया था. लेकिन विरोध के बाद तिरंगा फहराने वाले शख्स को स्टेज से साइड होना पड़ा और अन्य कार्यक्रम प्रस्तुत करने के लिए प्रतिभागी बुलाए गए.

विरोध के बाद रोका वंदे मातरम
निश्तार यूनिवर्सिटी के इस कार्यक्रम का वीडियो गुलाम अब्बास शाह नाम के एक शख्स ने ट्वीट किया है. इसमें उन्होंने बताया कि मेडिकल यूनिवर्सिटी में वंदे मातरम के साथ स्टेज पर तिरंगा फहराया जा रहा था. लेकिन शहीदा कॉलेज की ओर से तैयार किए गए इस कार्यक्रम को तुरंत रोका गया है. गुलाम ने कहा कि यह एक मॉडल UN प्रतियोगिता का इवेंट था जिसमें हर ग्रुप को एक देश का प्रतिनिधित्व करना था. इसी को दिखाने के लिए कॉलेज का छात्र तिरंगा लेकर स्टेज पर आया था. इसके बाद वहां भारत में मनाए जाने वाले त्योहारों और परिधानों की झलक भी देखने को मिली.

भारत-पाक को साथ मिली आजादी
पाकिस्तान और भारत को 1947 में एक साथ ब्रिटिश हुकूमत से आजादी मिली थी. लेकिन आजादी के साथ हुए बंटवारे के चलते पाकिस्तान एक इस्लामिक देश बन गया और वहां 14 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है. भारत अपनी आजादी के 75 साल पूरे करने जा रहा है और 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देशभर में कार्यक्रम आयोजित कर इसका जश्न मनाया जाएगा. सरकार की ओर से पहले ही आजादी का अमृत महोत्सव शुरू किया जा चुका है जिसके तहत कई बड़े कार्यक्रम आयोजित हुए हैं.

Post a Comment

0 Comments