Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

मुंबई के नवा शेरा पोर्ट पर दिल्ली पुलिस ने 20 टन हेरोइन बरामद की, 1800 करोड़ है कीमत

बड़ी मात्रा में हेरोइन मिलने के इस मामले के तार नार्को टेरर से जुड़े, कुछ दिन पहले दो अफगानी नागरिक किए गए थे गिरफ्तार.


मुंबई (Mumbai) के नवा शेरा पोर्ट (Nawa Shera Port) से 20 टन से ज्यादा हेरोइन (Heroin) से कोटेड मुलेठी बरामद की गई है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने नशले पदार्थ  हेरोइन की यह अब तक की सबसे बड़ी खेप बरामद की है. बरामद हेरोइन की कीमत करीब 1800 करोड़ है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल जल्द ही इस मामले का पूरा खुलासा करेगी. 

बताया जाता है कि बड़ी मात्रा में हेरोइन मिलने के इस मामले के तार नार्को टेरर से जुड़े हैं. स्पेशल सेल ने कुछ दिन पहले दो अफगानियों को गिरफ्तार करके नार्को टेरर का खुलासा किया था. स्पेशल सेल ने तब 1200 करोड़ की ड्रग पकड़ी थी. पूछताछ में अफगानी नागरिकों ने खुलासा किया था कि मुंबई के पोर्ट पर भी कंटेनर में ड्रग मौजूद है.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इसके बाद ड्रग्स की अब तक की सबसे बड़ी बरामदगी की. पुलिस ने मुंबई के नवा शेरा पोर्ट से एक कंटेनर से 1800 करोड़ की हेरोइन जब्त कर ली. हेरोइन का घोल बनाकर मुलेठी के ऊपर चढ़ाया गया था. करीब 20 टन हेरोइन कोटेट मुलेठी बरामद हुई है. 

इसी महीने दिल्ली पुलिस ने कालिंदी कुंज इलाके से दो अफगानी नागरिकों को गिरफ्तार किया था. उनकी निशानदेही पर दिल्ली ,ग्रेटर नोएडा और लखनऊ से 1200 करोड़ की ड्रग्स बरामद हुई थी. 

इस ड्रग्स का पैसा पाकिस्तान में खुफिया एजेंसी आईएसआई के पास जाना था. इसलिए पुलिस ने इसे नार्को टेरर का मामला मानते हुए दोनों आरोपियों के खिलाफ यूएपीए के तहत कार्रवाई की है. अब उन्हीं आरोपियों की निशानदेही पर ड्रग्स से भरा कंटेनर बरामद हुआ है.

विशेष सीपी एचजीएस धालीवाल ने कहा कि, जब्त की गई हेरोइन का कुल मूल्य लगभग 1,725 करोड़ रुपये है. कंटेनर को दिल्ली लाया गया है. यह बरामदगी यह साफ कर देती है कि नार्को टेरर हमारे देश को कैसे प्रभावित कर रहा है. दुनिया के ड्रग्स के धंधेबाज हमारे देश में ड्रग्स सप्लाई के लिए विभिन्न तरीके इस्तेमाल कर रहे हैं.

मुंबई के नवा शेरा पोर्ट से जिस कंटेनर से करीब 1800 करोड़ की हेरोइन बरामद की गई है, वह एक साल से ज्यादा समय से वहां रखा था. यह बरामदगी हाल ही में पकड़े गए दो अफगानी नागरिकों की निशानदेही पर हुई. पुलिस के मुताबिक इस सिंडिकेट से अब तक 3000 करोड़ के ड्रग्स जब्त किए जा चुके हैं. यह मामला नार्को टेरर से जुड़ा है क्योंकि ड्रग्स का पैसा पाकिस्तान जा रहा है. 

दिल्ली पुलिस मुंबई के नवा शेरा पोर्ट से कंटेनर को दिल्ली ले आई है. इस कंटेनर में 20 हजार टन हेरोइन कोटेट मुलेठी है. हेरोइन का वजन 325 किलो से ज्यादा है और अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत 1800 करोड़ के करीब है. अफगानिस्तान से ड्रग्स की खेप दुबई के जरिए बुक होकर मुंबई पहुंची थी. मुंबई में यह कंटेनर पिछले साल 21 जून से रखा था.

दरअसल इसी महीने की छह तारीख को दिल्ली पुलिस ने कालिंदी कुंज से दो अफगानी नागरिकों मुस्तफा और रहिमुल्लाह को गिरफ्तार किया था. दोनों 2016 से भारत मे रह रहे थे. उनकी निशानदेही पर दिल्ली, ग्रेटर नोएडा और लखनऊ से 1200 करोड़ के ड्रग्स बरामद हुए. 

जांच में पता चला है कि, यह ड्रग्स अफगानिस्तान से होते हुए चेन्नई पोर्ट आए. वहां से लखनऊ और फिर दिल्ली आए. ड्रग्स भारत के कई शहरों में सप्लाई होना था, ड्रग्स का पैसा पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को जाना था. ड्रग्स सिंडिकेट से जुड़े लोग पाकिस्तान,अफगानिस्तान और दुबई में बैठे हैं. 

बीते कुछ समय में गुजरात के मुद्रा पोर्ट समेत कई बंदरगाहों पर हजारों करोड़ के नशीले पदार्थ बरामद हुए हैं. पुलिस के मुताबिक यह नार्को टेरर सिंडीकेट बड़ा है जो अलग-अलग बंदरगाहों पर नशीले पदार्थ भेज रहा है.

Post a Comment

0 Comments