Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Aligarh News: बीजेपी नेता रूबी खान के पूरे परिवार को जिंदा जलाने की धमकी, घर के बाहर लगाए गए पोस्टर

Aligarh News: गणपति स्थापना को लेकर मौलानाओं के निशाने पर आईं बीजेपी नेता रूबी खान के खिलाफ धमकी भरे पोस्टर लगाए हैं. जिसमें उन्हें काफिर कहा गया है और पूरे परिवार को जिंदा जला देने की धमकी दी गई है.

अलीगढ़ (Aligarh) में गणपति स्थापना को लेकर मौलानाओं के निशाने पर आईं भारतीय जनता पार्टी (BJP) की नेता रूबी आसिफ खान (Ruby Asif Khan) के खिलाफ उनकी गली और घर के बाहर धमकी भरे पोस्टर (Poster) लगे हैं, जिसमें उन्हें काफिर कहा गया है और उनके पूरे परिवार को जिंदा जला देने की धमकी दी गई है. रूबी खान ने पिछले दिनों अपने घर में गणपति की स्थापना की थी, जिसके बाद वो मौलानाओं के निशाने पर आ गईं थी. वहीं अब नवरात्रों (Navratri 2022) में उन्होंने मां दुर्गा (Maa Durga) की प्रतिमा स्थापित की है और नौ दिनों को उपवास भी किया है.


रूबी खान के खिलाफ धमकी भरे पोस्टर 

रूबी खान के घर के बाहर जो धमकी भरे पोस्टर लगाए गए हैं. उनमें लिखा है कि 'रूबी आसिफ खान काफिर बन गई है पूजा करती है हवन करती है वंदे मातरम कहती है इसे इस्लाम से खारिज कर दो. परिवार समेत जिंदा जला दो. हम सच्चे मुसलमान जमात उल इस्लाम नारे तकबीर अल्लाह है अकबर.' रूबी ने पहले भी मुख्यमंत्री से लेकर तमाम अधिकारियों को अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता जताई थी और पत्र भी लिखा था. नवरात्र व्रत करने की वजह से अब वो एक बार फिर से कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गईं हैं. उन्होंने इन पोस्टर को लेकर पुलिस को शिकायत दी है. जिसके बाद पुलिस ने इन पोस्टरों को हटा दिया है.


गणपति स्थापना को लेकर रहीं सुर्खियों में
रूबी खान लगातार पिछले काफी समय से हिंदू देवी देवताओं की पूजा करती आई हैं. दो साल पहले उन्होंने अपने घर में राम दरबार रखा था जिसके बाद उन पर हमले भी हुए थे. कुछ दिन पूर्व घर पर गणेश प्रतिमा रखने के बाद वह मौलानाओं के निशाने पर आई थी और उनके खिलाफ फतवे भी जारी हुए थे लेकिन वह पीछे नहीं हटी और उन्होंने विधि विधान से गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया. अब नवरात्र में रूबी खान ने अपने घर पर मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित की है और 9 दिनों का व्रत भी रखेगी और उसके बाद प्रतिमा का विसर्जन करने भी जाएगी. कुछ दिन पहले उनके नाम से एक फर्जी अकाउंट भी बनाया गया था जिसकी शिकायत उन्होंने पुलिस में की थी.


रूबी खान के परिवार को जिंदा जलाने की धमकी
रूबी ने बताया कि आज सुबह पड़ोसियों ने हमारे घर का दरवाजा बजाया और इन पोस्टरों के बारे में जानकारी दी. पूरी गली में पोस्टर लगे हुए थे और दरवाजे के नीचे भी रखा था. हमने डर के मारे कुछ पोस्टर हटा दिए. इसके बाद हमने पुलिस को इसकी सूचना दी और अपने संगठन के लोगों को फोन किया. ये पिछले 2 साल से चल रहा है. जब मैंने भगवान श्री राम की पूजा अर्चना की थी. उस समय भी मेरे पोस्टर लगा दिए गए थे. इस्लाम से खारिज करने की धमकियां पहले भी मिली थी फिर उसके बाद मुझ पर हमले हुए फायरिंग भी हुई. कुछ जिहादी और मौलाना हमारे पीछे लगे हुए हैं. 

इस बार जब हमने नवरात्र व्रत किए हैं तो हमारे घर के आगे इस तरह के धमकी भरे पोस्टर लगा दिए गए हैं. कि ये हिन्दू बन गई है. इसके परिवार को जिंदा जला दो. उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ ये कहना चाहती हूं कि जो जमीरउल्लाह जैसे लोग मेरा डीएनए टेस्ट कराना चाहते हैं पहले अपना कराएं कि वो सच्चे मुसलमान है या नहीं. जो लोगों को भड़का कर पूरे हिंदुस्तान में आग लगाना चाहते हैं. हिंदू मुस्लिम कराना चाहते हैं. उन्होंने एक बार फिर अपनी जान को खतरा बताया और कहा कि ये लोग मेरी हत्या करा सकते हैं. 


रूबी खान के पति ने जताया इस बात का डर
रूबी के पति आसिफ खान ने कहा कि मेरी पत्नी ने गणपति की स्थापना की थी ताकि वो देश में हिन्दू-मुस्लिम एकता का संदेश दे सके. लेकिन जिहादी मौलाना मुल्ला कुछ राजनीतिक रोटियां सेकने वाले लोग देश में आग लगाने की कोशिश करते हैं. आए दिन फतवे जारी करते हैं कि ये हिंदू बन गई है. उन्होंने कहा कि अब तो हमें लगता है कि कुछ लोग हमारी हत्या कराना चाहते हैं. अब हमें बहुत ज्यादा परेशानी अब हो रही है. पहले हम समझ रहे थे कि कुछ नहीं है लेकिन अब लगता है कि यह मेरी पत्नी और मेरे परिवार के पीछे पड़ गए हैं.

रूबी के समर्थन में आई बीजेपी
इस मामले पर बीजेपी नेता व पूर्व मेयर शकुंतला भारती ने कहा कि काफिर तो वह लोग हैं जो ना अपने देश के हैं ना अपने समाज के हैं ना अपने राष्ट्र के हैं. ऐसे लोगों को खदेड़ कर पाकिस्तान की सीमा में भेज देना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं ऐसे लोगों को कहना चाहती हूं कि अगर भारत में रहना है तो वंदेमातरम कहना होगा. वंदे मातरम कहने में संकोच है तो यहां से अपना मुंह काला करके पाकिस्तान की सीमा में चले जाएं. 


हिन्दू महासभा ने की सुरक्षा देने की मांग
वहीं हिंदू महासभा भी रूबी आसिफ खान के समर्थन में खड़ी हो गई है. हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा भारती उर्फ पूजा शकुन पांडे ने कहा है कि रूबी खान को घबराने या डरने की जरुरत नहीं है. इन लोगों को काम सिर्फ सर को तन से जुदा करना है और कुछ नहीं जानते. ये नहीं जानते कि सर्वधर्म सम्भाव क्या है. वहीं प्रशासन से अपील करना चाहती हूं कि रूबी खान को तत्काल प्रभाव से सुरक्षा सुनिश्चित की जाए और इस मामले की जांच हो.

Post a Comment

0 Comments