Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी आज शाम करेंगे भारत जोड़ो यात्रा का आगाज, जानें पूरा प्लान

Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी (Rahul Gandhi) तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर पहुंचे जहां उन्होंने राजीव गांधी के स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की और एक प्रार्थना सभा में शामिल हुए।

कांग्रेस (Congress) की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) आज से शुरू हो रही है। इस क्रम में सबसे पहले राहुल गांधी (Rahul Gandhi) तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर पहुंचे जहां उन्होंने राजीव गांधी के स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की और एक प्रार्थना सभा में शामिल हुए। राहुल शाम को कन्याकुमारी के समुद्री तट के निकट एक जनसभा को संबोधित करेंगे और इसके साथ इस यात्रा की औपचारिक शुरुआत होगी। दोपहर तीन बजे राहुल गांधी तिरुवल्लुवर मेमोरियल जायेंगे।


राहुल गांधी का कार्यक्रम

  • 3.00 बजे तिरुवल्लुवर मेमोरियल जायेंगे
  • 3:25पर विवेकानंद मेमोरियल जाने का कार्यक्रम
  • 3:50 कामराज मेमोरियल जाएंगे
  • 4:10 महात्मा गांधी मंडापम्म में प्रार्थना सभा होगी 
  • 4:30 बजे फ्लैग हैंडओवर सेरेमनी होगी 
  • 4:40 पर भारत जोड़ो यात्री गांधी मंडल से बीच रोड तक पैदल मार्च 
  • 5.00 बजे भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत होगी।


भारत यात्रा में तीन तरह के यात्री

भारत यात्रा में तीन तरह के यात्री होंगे। जो यात्री शुरू से लेकर यात्रा के अंत तक मार्च करेंगे उन्हें भारत यात्री कहा जायेगा। कुल 118 भारत यात्री राहुल गांधी के साथ मार्च करेंगे। इसमें बिहार के नेता कन्हैया कुमार युवा कांग्रेस अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास शामिल है। इसके अलावा प्रदेश यात्री होंगे जो जिस प्रदेश से यात्रा गुजरेगी वहां मार्च करेंगे। अतिथि यात्री जहां यात्रा नहीं जायेगी, जिन राज्यों में यात्रा नही जायेगी वहां यात्रा निकालेंगे। इसके अलावा कांग्रेस को 37 हजार लोगो ने वेबसाइट के जरिए भारत जोड़ो यात्रा में जुड़ने की अपील की है।


150 दिनों में पूरी होगी यात्रा 

3570 किमी लंबी यह यात्रा 150 दिनों में पूरी होगी और इसका समापन श्रीनगर में होगा। यह यात्रा कुल बारह राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेश से होकर गुजरेगी। यात्रा तमिलनाडु से शुरू होकर 11 सितंबर को केरल में दाखिल होगी और अठारह दिन वहां रहेगी। इसके बाद तीस सितंबर को यात्रा कर्नाटक में पहुंचेगी जहां इक्कीस दिन यात्रा चलेगी और लगभग पांच सौ ग्यारह किलोमीटर का दूरी तय करेगी। मध्यप्रदेश में यह यात्रा 25 नवंबर को पहुंचेगी। 16 दिनों में यह यात्रा राज्य के अंदर 382 किलो मीटर की दूरी तय करेगी। सबसे ज्यादा दिन यह यात्रा कर्नाटक में रहेगी जहां इक्कीस दिनों में पांच सौ ग्यारह किलोमीटर की दूरी तय करेगी। इसके बाद केरल में यह यात्रा में लगभग अठारह दिन रहेगी ।


रोजाना 25 किमी की दूरी तय होगी

यह यात्रा सुबह साढ़े सात बजे से साढ़े दस बजे तक होगी फिर उसके बाद शाम को चार बजे से सात बजे तक होगी। बीच में सभी यात्री आराम करेंगे। एक दिन में लगभग पच्चीस किलोमीटर की दूरी तय की जायेगी।


पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर ने की थी 4260 किमी यात्रा

इससे पहले भारत यात्रा पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर ने की थी। उन्होंने यात्रा 6 जनवरी 1983 को शुरू की थी और 6 महीने की भारत यात्रा 25 जून1983 को खत्म हुई थी। चंद्रशेकर ने 4260 किलोमीटर की दूरी तय की थी। 1990 में बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने भी निकाली थी रथ यात्रा।


दिग्विजय सिंह ने 2017 में की थी नर्मदा यात्रा 

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी 2017 में नर्मदा यात्रा की थी, जिसमें उन्होंने 192 दिनों में 3300 किलोमीटर की दूरी तय की थी, जिसके बाद कांग्रेस ने राज्य की 230 में से 114 सीट जीतकर अपनी सरकार बनाई थी, हालांकि सरकार चली नहीं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी 2005-2022 के बीच बारह यात्रा निकाली।आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन रेड्डी ने भी 2017 में आंध्र प्रदेश के तेरह जिलों में 3648 किमी लंबी यात्रा निकाली थी। जिसके बाद राज्य में उनकी सरकार बनी।

Post a Comment

0 Comments