Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

होंडा भारत में बंद कर सकती है डीजल कारें, जानें क्या है इसके पीछे बड़ी वजह?

 होंडा भारत में बंद कर सकती है डीजल कारें, जानें क्या है इसके पीछे बड़ी वजह?

भारत में ज्यादातर कार बनाने वाली कंपनियां डीजल कारें बंद कर रही हैं. इसी कड़ी में होंडा का नाम भी जुड़ने जा रहा है. हाल ही में होंडा ने इस तरह के संकेत दिए हैं कि वह अब डीजल कारों को जल्द बंद कर सकती है. होंडा ने 2013 में अमेज सब-कॉम्पैक्ट सेडान के साथ डीजल कार सेगमेंट में कदम रखा था. वर्तमान में कंपनी की फिफ्थ जनरेशन होंडा सिटी, अमेज और WR-V जैसी कारों के कुछ मॉडल में डीजल इंजन देखने को मिलता है.

हाल ही में होंडा कार्स इंडिया के सीईओ ताकुया त्सुमुरा ने हाल ही में टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा, “हम अब डीजल के बारे में बहुत ज्यादा नहीं सोच रहे हैं. इसलिए डीजल हम नहीं करेंगे. वर्तमान में डीजल के साथ रियल ड्राइविंग एमिशन (RDE) नियमों की वजह से यह कठिन हो गया है.  यूरोप में भी जब यह नियमन आया, तो अधिकांश ब्रांड डीजल के साथ जारी नहीं रख सके. ऐसा ही कुछ भारत में हो रहा है.

अगले साल से लागू होंगे नए नियम
देश में अगले साल से RDE स्टैंडर्ड लागू होने जा रहा है. इस नियम के आने के बाद CAFE-2 यानी कॉर्पोरेट एवरेज फ्यूल इकॉनमी 2 स्टैंडर्ड लागू किए जाएंगे. नए नियम के आ जाने के बाद डीजल कारों को उत्सर्जन के स्टैंडर्ड पर खरा उतरना जरूरी हो जाएगा. फिलहाल होंडा देश में कुल चार गाड़ियों बेचती है. इसमें सबकॉम्पैक्ट एसयूवी WR-V, प्रीमियम हैचबैक जैज, मिड-साइज सेडान सिटी और कॉम्पैक्ट सेडान अमेज शामिल हैं.

हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक कारों पर रहेगा फोकस
होंडा ने इससे पहले एक बयान दिया था कि वह आने वाली समय में इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड कारों पर फोकस करेगी. कंपनी ने इस साल की शुरुआत में होंडा सिटी का हाइब्रिड मॉडल भी लॉन्च किया था. यह कार सेगमेंट में सबसे ज्यादा 26.50 kmpl का माइलेज देती है.

भारत में बिजनेस बंद नहीं करेगी कंपनी
दूसरी तरफ भारत में बिजनेस बंद करने की खबरों को होंडा ने खारिज कर दिया है. कंपनी ने इसको लेकर साफ कर दिया है कि कंपनी की भारत में बिजनेस बंद करने को लेकर कोई योजना नहीं है. इसे आने वाले दिनों में बढ़ाया जा सकता है.

Post a Comment

0 Comments