Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Typhoon Nanmadol: जापान से कभी भी टकरा सकता है 'नानमाडोल' तूफान, बड़े नुकसान की आशंका, अलर्ट जारी

Typhoon Nanmodal Update: जापान में अब कभी भी नानमाडोल तूफान दस्तक दे सकता है. इससे बड़े नुकसान की आशंका जताई जा रही है. लाखों लोगों को सुरक्षित स्थान पर भेजा गया है. विस्तार से पढ़ें पूरी खबर.

शक्तिशाली तूफान 'नानमाडोल' दक्षिण-पश्चिमी जापान (Japan) में परिवहन सेवाओं को बाधित कर रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मौसम अधिकारियों ने दक्षिण-पश्चिमी जापान में कागोशिमा प्रान्त के लिए तेज हवाओं, ऊंची और तूफानी लहरों के लिए एक आपातकालीन चेतावनी जारी की है. उन्होंने कहा कि एक शक्तिशाली तूफान उस तरह की आपदा को ट्रिगर कर सकता है जो कुछ दशकों में केवल एक बार देखी जाती है.

अधिकारियों का कहना है कि अधिकतम 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाएं उत्तरी और दक्षिणी क्यूशू के साथ-साथ अमामी द्वीप समूह से टकराएंगी. तट से टकराने के दौरान ये रफ्तार 252 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है. दक्षिणी क्यूशू में सोमवार की सुबह तक 600 मिलीमीटर बारिश हो सकती है. 


उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा तूफान

एजेंसी ने यह भी चेतावनी दी है कि चूंकि आंधी बड़ी है, बारिश और हवाएं इससे दूर के क्षेत्रों में भी तेज हो सकती हैं. सोमवार से पश्चिमी और पूर्वी जापान के कुछ हिस्सों में भारी वर्षा की संभावना है. सार्वजनिक प्रसारक एनएचके-वर्ल्ड जापान के अनुसार, तूफान उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा और मंगलवार तक जापान के मुख्य द्वीप होंशू से होकर गुजरेगा.


20 लाख लोगों को निकालने का आदेश 

रविवार को इस क्षेत्र में आने वाले शक्तिशाली तूफान के पूर्वानुमान से पहले दक्षिण-पश्चिमी जापान में लगभग दो मिलियन (20 लाख) लोगों को निकालने का आदेश दिया गया है. सुबह 11 बजे तक, जापान एयरलाइंस और ऑल निप्पॉन एयरवेज ने दिन के लिए 500 से अधिक उड़ानें रद्द कर दी थीं. जापान एयरलाइंस ने 376 उड़ानें रद्द करने की योजना बनाई है और ऑल निप्पॉन एयरवेज 19 में कटौती करेगी. अन्य एयरलाइंस भी सोमवार से सेवाएं रद्द कर रही हैं.


बुलेट ट्रेन सेवा भी हुई प्रभावित

बुलेट ट्रेन सेवा भी प्रभावित हो रही है. एनएचके की रिपोर्ट के अनुसार, दोपहर 1:30 बजे से, क्यूशू शिंकानसेन के संचालक ने रविवार और सोमवार के लिए सभी सेवाओं को निलंबित कर दिया है. तूफान के दक्षिणी क्यूशू से टकराने का अनुमान है, जो जापान के दक्षिण-पश्चिम द्वीपों में से एक है, विशेष रूप से कागोशिमा प्रान्त के भीतर.


घरों को खाली करने का आग्रह किया गया

जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) ने कहा, "इस बात की संभावना है कि भारी बारिश दर्ज की जाएगी और एक आपातकालीन भारी बारिश की चेतावनी की घोषणा की जाएगी." जेएमए के एक अधिकारी रयुता कुरोरा ने शनिवार को चेतावनी दी कि तेज हवाएं घरों के ढहने का कारण बन सकती हैं. कुरोरा ने निवासियों से भूस्खलन और बाढ़ के जोखिम से बचने के लिए तूफान आने से पहले घरों को खाली करने का आग्रह किया.

Post a Comment

0 Comments