Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

UP: एसएसपी से बोली विवाहिता- पति बनाता है अप्राकृतिक संबंध, देवर करता है दुष्कर्म

 UP: एसएसपी से बोली विवाहिता- पति बनाता है अप्राकृतिक संबंध, देवर करता है दुष्कर्म.


उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में विवाहिता ने ससुरालियों पर बर्बरता की सारी हदें पार करने का गंभीर आरोप लगाया है। एसएसपी आगरा के पास पहुंची पीड़िता ने बताया कि पति अप्राकृतिक संबंध बनाता है। वहीं देवर ने नशीला पदार्थ खिलाकर दुष्कर्म किया। इतना ही नहीं इस बीच जब वह दो बार गर्भवती हुई, तो उसका जबरदस्ती गर्भपात भी करवा दिया। विरोध करने पर उसे शारीरिक यातनाएं दी जाती हैं। हाल में ही गला घोंट कर उसे जान से मारने का प्रयास किया गया। विवाहिता किसी तरह बच गई। 

सूचना पर जब मायके पक्ष के लोग पहुंचे, तो ससुराल वालों ने उनसे भी मारपीट की। वह महिला थाने गई, लेकिन वहां कोई सुनवाई नहीं हुई। महिला की शिकायत को गंभीरता से सुनते हुए एसएसपी आगरा ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच के आदेश दिए हैं। वहीं पुलिस आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही है।


दो साल पहले हुआ था विवाह

थाना एत्माउद्दौला की ट्रांस यमुना कालोनी की रहने वाली युवती का विवाह दो साल पहले मढ़ैया गांव के एक युवक से हुआ था। पीड़िता ने बताया कि घरवालों ने शादी में करीब पांच लाख रुपये खर्च किए थे। शादी के कुछ दिन तक तो सबकुछ ठीक ठाक चलता रहा, लेकिन इस बीच ससुराल वालों ने एक प्लॉट खरीदने की बात बताई।

ससुराल वाले प्लॉट खरीदने के लिए रकम मायके से लाने के लिए दबाव बनाने लगे। उसने बताया कि मायके वालों की इतनी हैसियत नहीं है कि वे 10 लाख रुपये की व्यवस्था कर सकें। उसने जैसे ही मना किया, तो पति ने उसे मारना-पीटना शुरू कर दिया।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि पति ने अप्राकृतिक संबंध बनाना शुरू कर दिए। इसी बीच देवर ने अश्लील हरकतें करना शुरू कर दीं। विरोध करने पर एक दिन चाय में कुछ नशीला पदार्थ मिला कर पिला दिया। बेहोश होने पर उसके साथ दुष्कर्म किया।

इस बीच वह गर्भवती हो गई तो सास ने जबरन उसे गर्भपात की दवा खिला दी। इस दौरान बात मायके तक पहुंची, जिसके बाद हुई पंचायत में ससुराल वालों ने दोबारा उत्पीड़न न करने का वादा भी किया। इसके बाद वह दोबारा गर्भवती हो गयी। गर्भ ठहरने के बाद 27 जून को ससुरालियों ने दोबारा दस लाख की मांग की और मायके से पैसे लाने को कहा।

विवाहिता ने जब फिर से मना किया, तो उसको कमरे में बंद कर पीटा गया। आरोप है कि पेट पर कई लात मारकर गर्भ गिरा दिया गया। उसका गला दबा कर मारने का प्रयास किया। इस दौरान पड़ोसियों ने उसे बचाया और मायके वालों को फोन कर जानकारी दी।  सूचना पर उसके पिता और भाई आ गए। विरोध करने पर उनके साथ भी मारपीट कर दी गई। जैसे तैसे परिजन वहां से बाहर निकाल कर लाए।

मामले की जानकारी देते हुए थाना प्रभारी विनोद कुमार के अनुसार पीड़िता की तहरीर पर दष्कर्म, कुकर्म, दहेज, मारपीट और अन्य कई गंभीर धाराओं में ससुराल के आठ लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए एक टीम हाथरस जा रही है।

Post a Comment

0 Comments