Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

VIDEO: कानपुर में पिटबुल ने किया गाय पर हमला, मुंह में देर तक दबाए रखा जबड़ा

हमले के दौरान पिटबुल के मालिक ने अपने साथियों के साथ बहुत कोशिश की कि पिटबुल के मुंह से उस गाय को छुड़ा लें, लेकिन काफी देर के बाद मालिक ने जब अपने कुत्ते को मारा- पीटा तभी उसने गाय को छोड़ा.


देश के अन्य शहरों की तरह कानपुर में भी पिटबुल ब्रीड के कुत्ते ने एक गाय के ऊपर हमला बोल दिया और उसे बुरे तरीके से घायल कर दिया हालांकि हमले के दौरान पिटबुल के मालिक ने अपने साथियों के साथ बहुत कोशिश की कि पिटबुल के मुंह से उस गाय को छुड़ा लें, लेकिन काफी देर के बाद मालिक ने जब अपने कुत्ते को मारा- पीटा तभी उसने गाय को छोड़ा. लेकिन तब तक गाय के मुंह को वह कुत्ता बुरे तरीके से काट चुका था. तस्वीरों में साफ स्पष्ट है कि गाय के चेहरे पर गहरे घाव हैं. गाय के चेहरे पर सूजन भी आ गई है.

इस बात की सच्चाई जानने के लिए मौके पर पहुंचकर आसपास के लोगों से बात की तो पता चला कि पिटबुल के दबंग मालिक के खौफ से पहले तो लोग बोलने से बचते रहे क्योंकि पिटबुल का दबंग मालिक गोल्डी मिश्रा भाजपा के नेता हैं और आए दिन विवाद करते रहते हैं. लोगों को समझाने पर बात की तो वह दबे स्वरों में बोले कि इनका पिटबुल बहुत खूंखार है, यह पहले भी तीन चार बार हमला कर लोगों को घायल कर चुका है, लेकिन किसी ने भी इनकी शिकायत करने की जहमत नहीं उठाई. आज जब मीडिया में इसका वीडियो वायरल हुआ तो लोगों में हिम्मत करके पिटबुल के मालिक के लिए बोला.

मीडिया में खबर आने के बाद जिला प्रशासन ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए चीफ वेटरनरी ऑफिसर को मौके पर अमले सहित भेजा हालांकि चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर आरके निरंजन ने घटना को हल्के में लेते हुए पिटबुल के मालिक को आश्वासन दिया कि परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है इसको केवल एंटी रेबीज के टीके लगेंगे, बाद में छोड़ दिया जाएगा. इसके बाद डॉग केज मंगवाकर फीमेल पिटबुल को पकड़कर नगर निगम अस्पताल ले जाया गया. इसी बीच पिटबुल के मालिक ने कार से मेल पिटबुल को घटनास्थल से हटा दिया था.


बता दें कि इसी महीने गाजियाबाद थाना मधुबन बापूधाम क्षेत्र सेक्टर 23 संजय नगर में रहने वाले पुष्प त्यागी नामक 11 वर्षीय बच्चे पर पिटबुल ब्रीड के डॉग ने जानलेवा हमला किया था. बच्चे के चेहरे पर करीब 200 टांके आए थे. इस घटना से परिजनों में काफी रोष है. इस तरह की घटनाएं बहुत हो रही हैं, जिसमें बच्चे खेल रहे होते हैं और कुत्ते उन पर हमला कर देते हैं. इस तरह से कुत्तों का खुला छोड़ देना बेहद ही गलत है. ये बूढ़ों और बच्चों को अपना अक्सर शिकार बना लेते हैं. घटना तब हुई जब बच्चा घर के पार्क में खेल रहा था. वहां पार्क में पिटबुल कुत्ते को घुमा रही लड़की के हाथ से अचानक कुत्ता छूट गया. फिर पिटबुल ने बच्चे के चेहरे और कान पर हमला कर दिया. वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह कुत्ते से बच्चे को छुड़वाया और अस्पताल पहुंचाया. अगर थोड़ी भी देर हो जाती तो कुछ भी हो सकता था.

Post a Comment

0 Comments