महाराष्ट्र कांग्रेस नेताओं ने मानहानि मामले में राहुल गांधी को मिली सजा के खिलाफ प्रदर्शन किया

महाराष्ट्र के कांग्रेस नेताओं ने पार्टी नेता राहुल गांधी को 'मोदी उपनाम' पर की गई टिप्पणी को लेकर दर्ज मानहानि के मामले में सूरत की अदालत द्वारा दो साल की सजा सुनाए जाने के खिलाफ बृहस्पतिवार को मुंबई पार्टी कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया।
महाराष्ट्र कांग्रेस इकाई अध्यक्ष नाना पटोले, मुंबई कांग्रेस इकाई अध्यक्ष भाई जगताप, पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और अशोक चव्हाण एवं अन्य नेताओं ने भी विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

सूरत की एक अदालत ने 'मोदी उपनाम' संबंधी टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ 2019 में दर्ज आपराधिक मानहानि के एक मामले में उन्हें बृहस्पतिवार को दो साल कारावास की सजा सुनाई।

अदालत ने, हालांकि गांधी को जमानत भी दे दी तथा उनकी सजा के अमल पर 30 दिनों तक के लिए रोक लगा दी, ताकि कांग्रेस नेता फैसले को चुनौती दे सकें।

मुंबई में प्रदर्शन के दौरान पटोले ने कहा कि पार्टी राज्य में 'जेल भरो' आंदोलन शुरू करेगी। उन्होंने कहा कि बदले की राजनीति लंबे समय तक नहीं चलेगी।

 पटोले ने कहा, ''राहुल गांधी को जिस तरह से दो साल कारावास की सजा सुनाई गई और गलत तरीके से फंसाया गया …यह केंद्र के दबाव की वजह से हुआ। यह उनकी छवि को धूमिल करने की कोशिश है। कांग्रेस जेल भरो आंदोलन शुरू करेगी।''

कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी को निशाना बनाया गया, ताकि लोगों का ध्यान मुख्य मुद्दों से भटकाया जा सके। 

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.