Header Google Ads

'दिसंबर में लोकसभा चुनाव.. BJP ने बुक किए सभी हेलीकॉप्टर', CM ममता का दावा, बढ़ा सियासी पारा

 Lok Sabha elections 2024: आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सभी दल तैयारियों में जुट गए हैं. भाजपा अपना किला बचाने के लिए रणनीति बना रही है तो विपक्ष केंद्र में वापसी के लिए दांव लगा रही है. आम चुनाव में वोट संख्या बढ़ाने के लिए तमाम दिग्गज नेता जनसभा भी कर रहे हैं.


आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सभी दल तैयारियों में जुट गए हैं. भाजपा अपना किला बचाने के लिए रणनीति बना रही है तो विपक्ष केंद्र में वापसी के लिए दांव लगा रही है. आम चुनाव में वोट संख्या बढ़ाने के लिए तमाम दिग्गज नेता जनसभा भी कर रहे हैं. इस क्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने भी मतदाताओं से संवाद बढ़ा दिया है. सोमवार को सीएम ममता ने युवाओं को संबोधित करते हुए चौंकाने वाला दावा किया. उन्होंने कहा कि भारत दिसंबर में ही लोकसभा चुनाव करवा सकती है.


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इस साल दिसंबर में ही लोकसभा चुनाव करा सकती है. इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि भाजपा ने चुनाव प्रचार के लिए सभी हेलीकॉप्टर पहले से ही बुक कर लिए हैं. ममता बनर्जी तृणमूल कांग्रेस की छात्र इकाई की एक रैली को संबोधित कर रही थीं. उन्होंने आगाह किया कि यदि भाजपा को केंद्र में लगातार तीसरा कार्यकाल मिलता है तो देश को 'निरंकुश' शासन का सामना करना पड़ेगा.

उन्होंने राज्य में अवैध पटाखा फैक्टरी में हुए विस्फोटों के लिए 'गैरकानूनी गतिविधियों' में लिप्त कुछ लोगों को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने आरोप लगाया कि 'कुछ पुलिसकर्मियों की मदद से' ऐसा हो रहा है. ममता ने कहा, 'अगर भाजपा लगातार तीसरी बार केंद्र की सत्ता में लौटती है, तो देश को निरंकुश शासन का सामना करना पड़ेगा. मुझे आशंका है कि वे (भाजपा) दिसंबर 2023 में ही लोकसभा चुनाव करा सकते हैं...भाजपा ने पहले ही हमारे देश को समुदायों के बीच कटुता वाले देश में बदल दिया है. अगर वे सत्ता में वापसी करते हैं, तो इससे हमारा देश नफरत का देश बन जाएगा.’’ अगला आम चुनाव 2024 में होना है.

ममता ने दावा किया कि लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए भाजपा ने ''पहले ही सभी हेलीकॉप्टर बुक कर लिए हैं'' ताकि अन्य राजनीतिक दल प्रचार के लिए उनका इस्तेमाल नहीं कर सकें. तृणमूल कांग्रेस के अन्य सदस्यों के अनुसार ममता के बयान का अभिप्राय संभवत: देश भर में हेलीकॉप्टर बुक किए जाने से है. पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में रविवार को एक अवैध पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोटों के संदर्भ में ममता ने कहा, ‘‘कुछ लोग अवैध गतिविधियों में लिप्त हैं और कुछ पुलिसकर्मी इसमें मदद कर रहे हैं.’’

अवैध पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोटों में नौ लोगों की मौत हो गई थी. ममता ने कहा, ‘‘ज्यादातर पुलिसकर्मी पूरी ईमानदारी से अपनी ड्यूटी कर रहे हैं, लेकिन कुछ लोग ऐसे तत्वों की मदद कर रहे हैं. उन्हें याद रखना चाहिए कि रैगिंग-विरोधी प्रकोष्ठ की तरह, हमारे यहां बंगाल में भ्रष्टाचार-विरोधी प्रकोष्ठ भी है.’’ उन्होंने पटाखा उद्योग से जुड़े लोगों से हरित पटाखों का निर्माण करने का आग्रह किया. उन्होंने कहा, 'हरित पटाखों के उत्पादन में क्या समस्या है? संभव है कि लाभ कुछ कम हो, लेकिन यह अधिक सुरक्षित और पर्यावरण-अनुकूल है.'

ममता ने यह आरोप भी लगाया कि राज्यपाल सी वी आनंद बोस संवैधानिक मानदंडों का उल्लंघन कर रहे हैं, और वह उनकी 'असंवैधानिक गतिविधियों' का समर्थन नहीं करती हैं. मुख्यमंत्री ममता ने राज्यपाल का जिक्र करते हुए कहा, ''निर्वाचित सरकार के साथ पंगा नहीं लें.'' तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि उन्होंने बंगाल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के तीन दशक लंबे शासन को समाप्त किया था और अब वह लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराएंगी.

यादवपुर विश्वविद्यालय में 'गोली मारो' के नारे लगाने वाले अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और भाजपा कार्यकर्ताओं पर निशाना साधते हुए ममता ने कहा कि उन्होंने विश्वविद्यालय में नफरत फैलाने वाले नारे लगाने वालों को गिरफ्तार करने का पुलिस को निर्देश दिया है. ममता ने कहा, 'ऐसे नारे लगाने वालों को नहीं भूलना चाहिए कि यह उत्तर प्रदेश नहीं बल्कि बंगाल है.’’

ममता के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए माकपा की केंद्रीय समिति के सदस्य सुजान चक्रवर्ती ने कहा कि मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर नजर रखने में माहिर हैं. उन्होंने कहा, ''इसलिए वह जब ऐसा कह रही हैं, तो हो सकता है कि आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) भी यही सोच रहा हो.'' माकपा नेता चक्रवर्ती ने कहा कि ममता बनर्जी का बयान अन्य राजनीतिक दलों को दिग्भ्रमित करने का प्रयास भी हो सकता है. उन्होंने कहा, ' देखना होगा कि वास्तव में क्या होता है.’’

भ्रष्टाचार के मामलों को लेकर राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के छापों का जिक्र करते हुए ममता ने दावा किया कि केंद्रीय एजेंसी 'लोकसभा चुनाव से पहले अभिषेक बनर्जी (तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव) को गिरफ्तार करने की योजना बना रही है'. उन्होंने कहा, 'मुझे हाल ही में एक संदेश मिला कि वे (ईडी) चुनाव से पहले उन्हें (अभिषेक को) गिरफ्तार कर लेंगे. उन्होंने कंप्यूटर पर फाइलें डाउनलोड कर ली हैं.'

केंद्रीय एजेंसियों ने पशुओं की तस्करी और कोयला चोरी से जुड़े मामलों में अभिषेक बनर्जी से पूछताछ की है. हालांकि, तृणमूल सांसद ने इसे भाजपा का राजनीतिक प्रतिशोध करार दिया है. ब्राज़ीलियाई एक साहसिक फर्म रोमांच चाहने वालों को रियो ग्रांडे डो सुल राज्य में गरजते कैस्काटा दा सेपल्टुरा के ऊपर लटकी हुई लकड़ी की मेज पर पिकनिक का आनंद लेने का अनूठा अवसर प्रदान कर रही है.

यह लुभावना अनुभव हाल ही में एक अमेरिकी जोड़े द्वारा पोस्ट की गई एक छोटी क्लिप के कारण वायरल हो गया, जिन्होंने इसे ब्राज़ील में आज़माने के लिए विशेष चीज़ों की तलाश के दौरान पाया. वीडियो में, क्रिस्टियाना हर्ट और उनके रैपर बॉयफ्रेंड 'ऑनप्वाइंटलाइकऑप' को कास्काटा दा सेपल्टुरा के ऊपर धातु के तारों के एक समूह पर लटकी पिकनिक टेबल पर कुछ स्नैक्स और रेड वाइन के एक गिलास का आनंद लेते हुए देखा जा सकता है.

पूरा अनुभव जाहिरा तौर पर केवल 15 मिनट तक चलता है और इसकी लागत $450 है, लेकिन यह निश्चित रूप से कुछ ऐसा है जिसे आप कभी नहीं भूलेंगे. क्रिस्टियाना ने कहा, "यह कुल मिलाकर केवल 15 मिनट का अनुभव है... यह अनुभव दृश्यों के बारे में अधिक है, न कि भोजन के बारे में," उन्होंने कहा कि उन्हें और उनके साथी को झरने तक पहुंचने के लिए चार-चार-चार गाड़ी चलानी पड़ी, जो आसपास है कैक्सियास डो सुल शहर से एक घंटे की ड्राइव पर, झरने के किनारे बने जिप-लाइन प्लेटफॉर्म तक पहुंचने के लिए नदी से होकर गुजरना पड़ता है.

दोनों को सुरक्षा कवच में बांधा गया और एक मजबूत ज़िप लाइन से सुरक्षित पिकनिक टेबल पर बैठाया गया. फिर मेज को गरजते झरने के ऊपर घुमाया गया जहां जोड़े ने अपना खाना और पेय पैक किया. अनुभव की कीमत में एक फोटो सेशन और ड्रोन वीडियो भी शामिल था. अविश्वसनीय स्थान के बावजूद, फ़ुटेज पर टिप्पणी करने वाले हजारों लोगों में से अधिकांश ने स्वीकार किया कि वे कास्काटा दा सेपल्टुरा के इतनी ऊंचाई पर पिकनिक का आनंद लेने के लिए घबराने में बहुत व्यस्त होंगे.
Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.