Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

वसीम रिजवी को जूता मारने पर मिलेगा 11 लाख रुपए का इनाम- मुरादाबाद के AIMIM नेता ने किया ऐलान

AIMIM के महानगर अध्यक्ष वकी रशीद ने वसीम रिजवी को जूता मारने पर इनाम देने की बात कही है। वसीम रिजवी ने कुछ दिन पहले ही इस्लाम धर्म को छोड़कर हिंदू धर्म को अपनाया था।

रशीद का आरोप, रिजवी हिंदुत्ववादी ताकतों के इशारों पर काम कर रहे हैं।


AIMIM के महानगर अध्यक्ष वकी रशीद ने वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी पर एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने यह बयान जारी करते हुए कहा है कि जो कोई रिजवी को जूता मारेगा उसे 11 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा। उनके इस बयान का वीडियो अब सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। इस बयान पर रशीद का कहना है कि वसीम रिजवी किसी साजिश के तहत हिंदू-मुस्लिम में फसाद कराना चाहता हैं और वे ऐसा होने देने नहीं चाहते हैं इसलिए उन्होंने यह एलान किया है।


क्या कहा AIMIM के महानगर अध्यक्ष ने

यूपी के मुरादाबाद में रशीद ने वसीम रिजवी पर जमकर हमला बोला और कहा कि उनपर पहले से ही कई मामले दर्ज हैं। कार्वाई से बचने के लिए रिजवी हिंदुत्ववादी ताकतों के इशारों पर काम कर रहे हैं और वे ऐसा कर राज्य में हालात बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। उनका यह भी कहना है कि विधानसभा चुनाव के मद्देनजर रिजवी हिंदू-मुस्लिम कर मूल मुद्दों से आम लोगों का ध्यान भटका रहे हैं। रशीद ने रिजवी के धर्म परिवर्तन पर सवाल उठाते हुए कहा कि जो इंसान इस्लाम का नहीं हुआ, वो हिंदु धर्म का क्या होगा।


वसीम रिजवी देते रहते हैं विवादित बयान

बता दें कि वसीम रिजवी और विवाद का चोली दावन का रिश्ता है। हाल ही में उन्होंने इस्लाम धर्म छोड़ हिंदु धर्म को अपनाया था और इसके बाद बयान देते हुए कहा, 'धर्म परिवर्तन की यहां पर कोई बात नहीं है, जब मुझको इस्लाम से निकाल दिया गया।' उन्होंने अपने एक किताब में भी इस्लाम की जमकर आलोचना की है। यही नहीं रिजवी ने कुछ दिनों पहले अपनी वसीयत लिखी थी, जिसमें उन्होंने इच्छा जताई थी कि उनके मरने के बाद उन्हें दफनाया नहीं जाए, बल्कि हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया जाए।

Post a Comment

0 Comments