Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

फिरौती के लालच में 8 साल के बच्चे की हत्या, उसी दिन मिला था एग्जाम में टॉप करने पर मेडल

सात लाख की फिरौती के लालच में 8 साल के एक बच्चे की हत्या करने का मामला सामने आया है. शॉक्ड कर देने वाला ये मामला बिहार के कैमूर जिले का है. 


बिहार के कैमूर जिले से सनसनीखेज खबर आई है जहां पैसे की लालच में पेशे से वीडियोग्राफर ने बच्चे का अपहरण कर निर्मम तरीके से हत्या कर दी. पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है. आरोपी के पास मोबाइल, मृतक की चप्पल, गला दबाने वाला रूमाल और फिरौती मांगने का पेपर बरामद किया गया. 

सात लाख रुपये की मांगी गई थी फिरौती 

दरअसल, कैमूर जिले के मोहनिया के वार्ड नंबर 15 में 24 दिसंबर को घर के बाहर खेलने के दौरान शाम 7 बजे एक बच्चा गायब हो गया. परिजनों द्वारा काफी खोजबीन की गई. जब नहीं पता चला तो गायब बच्चे के बगल के मकान में रहने वाले अविनाश कुमार ने परिजनों से बताया कि कुछ लोग आए थे और स्कॉर्पियो से बच्चे को टांग कर लेकर चले गए. हमने देखा और पीछा भी किया. फिर कुछ घंटे के बाद फिरौती की कागज भी उन्हें दिखा दिया जिसमें सात लाख रुपये की मांग की गई थी.  

 गड्ढे के पास बच्चे की डेड बॉडी मिली

परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब प्रत्यक्षदर्शी अविनाश कुमार को थाने लाकर पूछताछ करना शुरू की तो आरोपी अविनाश बार-बार अपना बयान बदलने लगा. संदेह होने पर पुलिस ने जब सख्ती दिखाई तो अविनाश पुलिस को मोहनिया थाना के भरखर में हो रहे सड़क निर्माण की तरफ ले गया जहां एक गड्ढे के पास बच्चे की डेड बॉडी मिली. 

रूमाल से गला दबाकर हत्या करने की बात स्वीकारी

पूछताछ पर अविनाश ने फिरौती की लालच में बच्चे का रूमाल से गला दबाकर हत्या करने की बात स्वीकारी. अविनाश पेशे से वीडियोग्राफर है जो बच्चे के सामने वाले मकान में रहता है और दोनों के घर में आना-जाना लगा रहता है और अच्छे संबंध भी हैं. बच्चा निजी विद्यालय में दूसरी क्लास का छात्र था. विद्यालय में हुए एग्जाम में कल टॉप किया था जिसमें उसको मेडल मिला था और अपनी शिक्षिका मां को मेडल के बारे में फोन से बताया था. जब मां विद्यालय के बाद घर पहुंची तो बच्चा नहीं मिला. फिर खोजबीन करने के बाद सारी घटनाएं सामने आने लगी. 

 पैसे की लालच और ईर्ष्या की वजह से बच्चे की हत्या

इस बारे में जानकारी देते हुए मोहनिया डीएसपी फैज अहमद खान ने बताया शुक्रवार शाम 7 बजे पुलिस को सूचना मिली थी कि मोहनिया के वार्ड 15 से एक 8 साल का बच्चा गायब हो गया है. पुलिस ने एक व्यक्ति अविनाश कुमार को हिरासत में लेकर गहनता से पूछताछ की. आरोपी ने बताया कि बच्चे को गायब करने के बाद तुरंत मार दिया है और भरखर के तरफ गड्ढे में ले जाकर उसकी डेड बॉडी छुपाया हुआ है. पैसे की लालच और ईर्ष्या की वजह से बच्चे की हत्या की गई. इस घटना में शामिल मोबाइल, मृतक की  चप्पल, गला दबाने में प्रयुक्त रूमाल, एक कंप्यूटर सेट बरामद हुआ है.

Post a Comment

0 Comments