Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

ओमिक्रॉन से बचने का कर रहे उपाय, तबतक आ गया उससे भी खतरनाक एक और नया कोरोना वेरिएंट

 विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना के एक और वेरिएंट ने दस्तक दे दी है. इसे डेल्मिक्रॉन (Delmicron Variant) कहा जा रहा है. बताया जा रहा है कि यह डेल्टा और ओमिक्रॉन वेरिएंट का कॉम्बिनेशन है. 


कोरोना के बढ़ते मामले सिर्फ भारत के लिए ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए चिंता का विषय हैं. कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron Variant) ने यूके, अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में पैर पसारना शुरू कर दिया है. ओमिक्रॉन के चलते भारत में भी पाबंदियां लागू की जा रही हैं. मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है. ओमिक्रॉन से पहले डेल्टा कहर बरसा रहा था. ऐसे में विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना के एक और वेरिएंट ने दस्तक दे दी है. इसे डेल्मिक्रॉन (Delmicron Variant) कहा जा रहा है. बताया जा रहा है कि यह डेल्टा और ओमिक्रॉन वेरिएंट का कॉम्बिनेशन है. 

डेल्मिक्रॉन वेरिएंट की वजह से ही बढ़ रहे मामले

हमारी सहयोगी वेबसाइट WION के मुताबिक विशेषज्ञों का कहना है कि यूरोप और US में कोरोना के केस डेल्मिक्रॉन की वजह से ही बढ़ रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि डेल्मिक्रॉन वेरिएंट डेल्टा और ओमिक्रॉन से भी ज्यादा तेजी से फैलता है. इससे लोगों में संक्रमण का ज्यादा खतरा है हालांकि डेल्टा के मुकाबले हल्के लक्षण दिखते हैं. 

इन देशों में चिंता की वजह बन रहा डेल्मिक्रॉन

कई मीडिया संगठनों की एक रिपोर्ट के अनुसार, महाराष्ट्र की COVID-19 टास्क टीम के एक सदस्य डॉ शशांक जोशी ने कहा है कि, यूरोप और USA में Delmicron, या डेल्टा और Omicron के ज्वॉइंट स्पाइक, एक छोटे से परिणाम के रूप में सामने आए हैं.

WHO ने साधा मौन

WHO ने अभी तक इस दावे पर कोई टिप्पणी नहीं की है कि एक नया तनाव विकसित हो रहा है. भारत में, न तो COVID-19 के लिए राष्ट्रीय टास्क फोर्स और न ही भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) ने 'Delmicron' शब्द का उपयोग किया है. इस बीच, चिकित्सा विशेषज्ञ और महाराष्ट्र सरकार के कोविड टास्क फोर्स के सदस्य शशांक जोशी ने गुरुवार को चेतावनी दी कि ओमिक्रॉन ही सबसे नया वेरिएंट है जो सबसे तेजी से फैल रहा है.

भारत में पैर पसार रहा ओमिक्रॉन

गौरतलब है कि भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ के 122 नए मामले सामने आने के बाद, देश में कुल मामले बढ़कर 358 हो गए हैं. इनमें से 114 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं या अन्य स्थानों पर चले गए हैं. ये मामले 17 राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में सामने आए. सबसे अधिक 88 मामले, दिल्ली में 67, तेलंगाना में 38, तमिलनाडु में 34, कर्नाटक में 31 और गुजरात में 30 मामले सामने आए. वहीं भारत में एक दिन में कोविड-19 के 6,650 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3 करोड़ 47 लाख 72 हजार 626 हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अभी तक जिन लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हुई है, उनमें से 70% से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं. पिछले 24 घंटे में 374 और कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4 लाख 79 हजार 133 हो गई.

Post a Comment

0 Comments