Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

हरियाणा के बाद इस राज्य में उठी खुले में नमाज पर रोक की मांग, विधायक ने CM से लगाई गुहार

हरियाणा (Haryana) में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर जारी विवाद के बीच बिहार के भारतीय जनता पार्टी (Bjp) के विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल (Haribhushan Thakur Bachaul) ने शनिवार को बिहार में भी खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगाने की मांग की है.

उन्होंने कहा कि वे इसकी पहल करेंगे.

हरियाणा (Haryana) में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर जारी विवाद के बीच बिहार के भारतीय जनता पार्टी (Bjp) के विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल (Haribhushan Thakur Bachaul) ने शनिवार को बिहार में भी खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि बिहार में भी खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगनी चाहिए.

विधायक ने खुले में नमाज पर रोक लगाने की कही बात

अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले भाजपा विधायक हरिभूषण ठाकुर ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि बिहार में भी खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि वे इसकी पहल करेंगे. BJP विधायक ने कहा कि जिस तरह हरियाणा की सरकार ने खुले में नमाज पर रोक लगाई है, बिहार में भी वैसा होना चाहिए. खुले में और सड़कों पर नमाज पढ़ने पर रोक लगनी चाहिए. शुक्रवार को सड़कों को जाम कर देना, सड़क पर नमाज पढ़ना, ये कैसी पूजा पद्धति है. अगर आस्था की बात है घर में या मस्जिद में नमाज पढ़ें. आखिर मस्जिद क्यों है?

'अगर नहीं किया ऐसा तो बिगड़ेगा सौहार्द'

ऐसा करने से सौहार्द बिगड़ेगा के सवाल पर उन्होंने कहा, अब अगर ऐसा नहीं किया तो सौहार्द बिगड़ेगा. 75 साल पहले धर्म के नाम पर भारत का विभाजन हुआ. लेकिन ये मुद्दा आज भी वहीं के वहीं है.

हरियाणा के सीएम को दिया धन्यवाद

उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) इस मामले पर क्या करेंगे ये वो ही जानें, लेकिन दुनिया ये काम कर रही है. उन्होंने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जो किया है, उसके लिए वे धन्यवाद के पात्र हैं. उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि वंदे मातरम में फल, हवा, हरियाली की वंदना है, लेकिन ये नहीं गाएंगे. यह कौन सी मानसिकता है. इसे समय रहते नहीं रोका गया तो देश को बड़ी हानि होगी.

खुले में नमाज को लेकर हरियाणा के सीएम ने कही थी ये बात

बता दें, इससे पहले शुक्रवार को हरियाणा में खुले में नमाज पढ़ने के मामले में सीएम मनोहर लाल खट्टर ने सख्ती से हिदायत देते हुए कहा था कि किसी भी कीमत पर खुले में नमाज नहीं होने दी जाएगी. इस मसले पर कोई टकराव न हो, इसके लिए पुलिस प्रशासन और जिला उपायुक्त को स्पष्ट निर्देश दे दिए गए हैं. खुले में नमाज पढ़ने की जो प्रथा चल पड़ी है, उसे कतई सहन नहीं किया जाएगा.

Post a Comment

0 Comments