Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Jharkhand Naxalite: झारखंड में नक्सलियों की बड़ी साजिश हुई नाकाम, 15 IED कुकर बम बरामद

Naxalites's Conspiracy Failed In Jharkhand: सरायकेला पुलिस (Seraikela Police) ने नक्सली साजिश को नाकाम करते हुए 15 आईडी कुकर बम बरामद कर नष्ट कर दिया. आज ही NIA ने कोलकाता के नक्सलियों को मदद करने वाले एक बिजनेसमैन को भी गिरफ्तार किया है.


झारखंड पुलिस ने नक्सलियों की बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है. सरायकेला पुलिस (Seraikela Police) ने आईईडी बम बरामद (IED Bomb Found) किया है. कुचाई थाना क्षेत्र में नक्सलियों के खिलाफ पुलिस की टीम सर्च अभियान चला रही थी. इसी दौरान कडे रंगो पहाड़ी से डेढ़ किलोमीटर पश्चिम दिशा में जंगली रास्तों में 15 आईडी बम लगाया गया था. नक्सलियों ने बम को जमीन के अंदर छिपाकर लगाया था. वो किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में थे. लेकिन सरायकेला में नक्सली साजिश को पुलिस ने नाकाम करते हुए 15 आईडी कुकर बम बरामद कर बीडीडीएस टीम द्वारा उसे नष्ट कर दिया गया. बता दें कि आज ही (NIA Naxalite) एनआईए ने कोलकाता से नक्सलियों को मदद करने वाले एक बिजनेसमैन को गिरफ्तार किया.

सरायकेला में 15 आईडी कुकर बम बरामद होने के बाद नक्सलियों के खिलाफ लगातार छापेमारी अभियान जारी है. सरायकेला में आईईडी बम बरामद होने से इलाके में हड़कंप है. इस मामले की जांच भी की जा रही है. सुरक्षा बलों ने जमीन के अंदर छिपाकर रखे गए 15 बम बरामद किए गए हैं। यह सभी बम प्रेशर कुकर में रखे गए थे.

सर्च ऑपरेशन के दौरान जब्त हुआ विस्फोटक

सर्च ऑपरेशन के दौरान सभी विस्फोटक को नष्ट कर दिया गया है. पुलिस के आला अधिकारियों की ओर से अब तक इस बारे में बयान जारी नहीं किया गया है. हालांकि दावा किया जा रहा है कि सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के मकसद से यह बम लगाए गए थे. बता दें कि पुलिस की ओर से कुचाई थाना क्षेत्र में नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान चलाया जा रहा था. इसी दौरान कडे रंगो पहाड़ी से डेढ़ किलोमीटर पश्चिम दिशा में जंगली रास्तों में जमीन के अंदर से यह बम बरामद लगाए गए थे. जांच के दौरान सुरक्षा बलों को इसकी जानकारी मिल गई. इसके बाद जमीन के अंदर गड्‌ढ़ा कर सभी बम निकाले गए.

नक्सलियों ने अपने बचाव के लिए लगाये थे विस्फोटक

बताया जा रहा है कि सुरक्षा बलों की बढ़ी गतिविधियों से घबराए नक्सलियों की ओर से अपने बचाव में यह विस्फोटक लगाए गए थे. अगर सर्च अभियान में समय रहते इनके बारे में सुरक्षा बलों को जानकारी नहीं मिलती तो बड़ा नुकसान हो सकता था. कोल्हान प्रमंडल के अंतर्गत आने वाले पश्चिमी सिंहभूम तथा सरायकेला-खरसावां जिले में पिछले कुछ समय में भाकपा माओवादी संगठन की गतिविधियां काफी बढ़ी हुई हैं. इस पर लगाम लगाने के लिए जिला पुलिस व CRPF की टीम लगातार सर्च अभियान चला रहे हैं.

Post a Comment

0 Comments