Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

कुएं में मिली युवती की लाश, मर्डर मिस्ट्री का राज जानकर पुलिस के भी उड़ गए होश

 प्रेमी से बात करने से परिजनों ने मना किया तो उसे इसकी कीमत जान देकर चुकानी पड़ी. इस मर्डर को उलझाने के लिए इसे एक मिस्ट्री बना दिया गया लेकिन पुलिस ने इसे क्रैक कर दिया और असली आरोपी तक पहुंच गई. 

उत्तर प्रदेश के औरया जिले से ऑनर किलिंग (Honor Killing) की एक घटना सामने आई है जहां एक लड़की को प्रेमी से बात करने की सजा मौत मिली. इस घटना को अंजाम किसी और ने नहीं बल्कि मृतक लड़की के तीनों चाचाओं ने मिलकर दिया था. लड़की की बड़ी ही बेरहमी से गला घोंटकर हत्या की गई. 

शव को एक कुएं में फेंक दिया

इसके बाद परिवार की इज्जत की खातिर और लड़के पर शक पर हत्या का शक हो, इस वजह से उसके शव को एक कुएं में फेंक दिया. पुलिस ने मृतक लड़की के चाचाओं को पकड़ कर अपना जुर्म कबूल कर लेने की बात कही और दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया. एक आरोपी की तलाश जारी है. 

पुलिस को मिली जानकारी तो कुएं से निकलवाई लाश 

औऱया जिले के दिबियापुर थाना क्षेत्र के गांव सेहुद में 15 फरवरी को पुलिस को एक सूचना मिलती है कि एक लड़की का शव कुएं में पड़ा हुआ है जिसके बाद पुलिस घटना स्थल पर पहुंचती है. मौके पर पहुंचते ही पुलिस ने लड़की का शव कुएं से निकाला तो लड़की की पहचान सेहुदा गांव की रहने वाली एक लड़की अप्सना (काल्पनिक नाम) के रूप में हुई जिसके बाद पुलिस ने परिजनों को सूचना दी. 

मौके पर पहुंचे मृतक लड़की के परिजनों ने शव की शिनाख्त भी की और पुलिस को हत्या की वजह बताई कि मेरी भतीजी किसी शिवम नाम के लड़के से प्यार करती है वह उसी से बातचीत भी करती थी.

पुलिस भी केस में हो गई घनचक्कर

पुलिस मृतक लड़की के चाचा यासीन के कहने पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई और शक के आधार पर लड़की के प्रेमी शिवम नाम के युवक पूछताछ के लिए उठा लिया. पुलिस को कोई पुख्ता सबूत न मिलने पर एसपी अभिषेक वर्मा में सीओ के साथ एसओजी टीम गठित कर घटना के खुलासे के लिए लगा दी. मामले की तह तक जब पुलिस पहुंची तो पुलिस के भी होश उड़ गए कि कैसे इस हत्या के पीछे की वजह ऑनर किलिंग का मामला जुड़ा हुआ है और जो वादी है वही आरोपी है.

पुलिस ने मृतक लड़की के चाचाओं को उठाकर पूछताछ की तो पता चला कि अपनी भतीजी की हत्या के पीछे की वजह प्रेम प्रसंग है. आरोपी यासीन, फ़रियाज, इशरार के कई बार समझने के बाद भी उन की बात न मानकर वह शिवम से फोन पर बात करती थी. उस रात भी वह लड़के से बात कर रही थी जिसके बाद हम लोगों ने मिलकर अपनी भतीजी का गला दबा कर उस की हत्या कर दी और शव को एक कुएं में फेंक दिया. शक हम लोगों पर न जाए, इसलिए हमने लड़के को फोन किया जिससे हत्या का शक उस लड़के पर जाए. 

चाचाओं ने मिलकर ही भतीजी का दबा दिया गला 

इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए एसपी अभिषेक वर्मा ने बताया कि ऑनर किलिंग का मामला है जिसमें चाचाओं ने मिलकर अपनी भतीजी का गला दबाकर हत्या की क्योंकि वह एक लड़के से बातचीत किया करती थी. हत्या के बाद शव को इन लोगों ने कुएं में फेंक दिया था.  लड़की के मोबाइल से आखिरी कॉल लड़के को की गई थी जिससे हत्या का शक लड़के के ऊपर जाए. सीओ ओर हमारी टीम ने मिलकर इस ऑनर किलिंग का खुलासा किया है. एक आरोपी अभी फरार है जिसकी तलाश जारी है.

Post a Comment

0 Comments