Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Covid-19: कोरोना के बढ़ रहे केस, PM मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे बैठक

राजधानी दिल्ली समेत देश में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर प्रधाममंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों और सीनियर अधिकारियों के साथ 27 अप्रैल को समीक्षा बैठक करेंगे.

देश में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है. राजधानी दिल्ली और एनसीआर में स्थिति चिंताजनक होती जा रही है. अब इसे लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ 27 अप्रैल को समीक्षा बैठक करेंगे. इस बैठक में पीएम मोदी के साथ प्रधानमंत्री कार्यालय के सीनियर अधिकारी भी शामिल होंगे. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया और उनके मंत्रालय के भी अधिकारी इस समीक्षा बैठक में हिस्सा ले सकते हैं.


बूस्टर डोज को लेकर भी हो सकती है बात

बताया जा रहा है कि केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण मामले पर एक प्रोजेंटेशन देंगे. इसके अलावा पीएम मोदी बूस्टर डोज को मुफ्त करने के लिए राज्य आग्रह भी कर सकते हैं. ये कोई पहला मौका नहीं है जब पीएम मोदी कोविड को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हों. पीएम मोदी ने पहले भी देश में कोविड की जमीनी हालात को समझने के लिए मुख्यमंत्रियों और जिलाधिकारियों के साथ कई बार बैठकें कर चुके हैं.


कोरोना वायरस संक्रमण के नए केस

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, कोरोना वायरस संक्रमण के 2,593 नए मामलों सामने आए हैं. ऐसे में देश में महामारी के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 4,25,19,479 हो गई है. वहीं एक्टिव मामलों बढ़कर 15,873 हो गए हैं. आंकड़ों के मुताबिक, देश में महामारी से मरने वालों की संख्या 5,22,193 हो गई है.


दिल्ली में 1000 से ज्यादा नए केस

राजधानी दिल्ली में बीते 24 घंटों में 1094 नए मामले सामने आए हैं और दो मरीजों की मौत हो गई. अकेले दिल्ली में कोरोना के सक्रिय मामले 3705 हो गए हैं. संक्रमण दर 4.82% दर्ज की गई है. फिलहाल दिल्ली सरकार की तरफ से पैनिक ना करने की अपील की जा रही है. प्रशासन ने पहले ही सख्ती लागू कर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है.


झारखंड में स्कूलों में फिर से मास्क अनिवार्य

दिल्ली के अलावा कोविड के बढ़ते हुए मामले को देखते हुए झारखंड राज्य के स्कूलों में भी फिर से बच्चों और शिक्षकों के लिए मास्क अनिवार्य किया गया है. स्कूलों में प्रार्थना सभा और खेलकूद पर रोक के आदेश दिए गए हैं. साथ ही सरकारी स्कूलों में नियमित रूप से कोरोना की जांच कराई जाएगी. वहीं, आवासीय स्कूलों में कैंप लगाकर कोविड की जांच होगी.

Post a Comment

0 Comments