Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

यूपी-बिहार और महाराष्ट्र विधान परिषद चुनावों के लिए BJP ने किया उम्मीदवारों का एलान, देखें पूरी लिस्ट

MLC Election 2022 BJP Candidate List केशव मौर्य, दानिश अंसारी समेत उन तमाम मंत्रियों का भी नाम इस लिस्ट में शामिल हैं, जिनको योगी सरकार में हुए मंत्रिमंडल में जगह मिली थी, लेकिन वह MLA नहीं थे या उनका कार्यकाल खत्म होने वाला था.

MLC Chunav 2022: भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा परिषद चुनावों के लिए उम्मीदवारों के नामों का बुधवार को एलान कर दिया है. उत्तर प्रदेश की 9, महाराष्ट्र की 5 और बिहार की 2 सीटों पर विधान परिषद का चुनाव होना है. केशव मौर्य, दानिश अंसारी समेत उन तमाम मंत्रियों का भी नाम इस लिस्ट में शामिल है, जिनको योगी सरकार में हुए मंत्रिमंडल में जगह मिली थी, लेकिन वह विधायक नहीं थे या उनका कार्यकाल खत्म होने वाला था. जिन नौ लोगों को बीजेपी ने प्रत्याशी बनाया वो हैं-

केशव प्रसाद मौर्य
चौधरी भूपेंद्र सिंह
दयाशंकर सिंह मिश्र दयालु
जे पीएस राठौर
जसवंत सैनी
दानिश आजाद अंसारी
बनवारीलाल दोहरे
मुकेश शर्मा


महाराष्ट्र में 5 उम्मीदवारों का एलान

जबकि, दूसरी तरफ महाराष्ट्र विधानपरिषद के लिए बीजेपी ने अपने जिन 5 उम्मीदवारों की सूची जारी की, वो हैं- प्रवीण दरेकर, प्रसाद लाड, राम शिंदे, श्रीकांत भारतीय और उमा गिरीश खापरे.

बीजेपी से बिहार विधान परिषद के लिए हरी सहनी और अनिल शर्मा उम्मीदवार बनाए गए हैं. इससे पहले, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल (यूनाटिड) ने राज्य विधान परिषद की सात सीटों के लिए द्विवार्षिक चुनाव के वास्ते मंगलवार को अपने दो उम्मीदवारों की घोषणा कर दी. जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अफाक अहमद और राष्ट्रीय सचिव रवींद्र कुमार सिंह को उक्त चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया गया है.

अहमद और सिंह की उम्मीदवारी का उद्देश्य स्पष्ट रूप से यह संदेश देना है कि जदयू उन कार्यकर्ताओं को मान्यता देती है जिन्होंने ‘लो प्रोफाइल’ रहते हुए समर्पण के साथ पार्टी की सेवा की है. हाल में पार्टी ने अपने राष्ट्रीय चुनाव अधिकारी अनिल हेगड़े और झारखंड इकाई के अध्यक्ष खीरू महतो को राज्यसभा भेजकर आश्चर्य में डाल दिया था. हालांकि पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह को संसद में एक और कार्यकाल से वंचित कर दिया गया था जो उनकी केंद्रीय मंत्रिपरिषद में उनके बने रहने को खतरे में डाल सकता है.

Post a Comment

0 Comments