Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

भाई ने दोस्त के साथ बहन के प्रेमी को मारा, इस अंग पर किए कई वार, पहले से विवाहित था मृतक

पूर्वी दिल्ली के कल्याणपुरी में वारदात को अंजाम दिया गया। शुक्रवार शाम को कल्याणपुरी ब्लॉक तीन के नाले से एक युवक का शव वारामद हुआ था। मृतक के मुख्य आरोपी की बहन से अवैध संबंध थे। पुलिस ने आरोपी व उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है।

पूर्वी दिल्ली के कल्याणपुरी इलाके में बहन से संबंध रखने पर एक युवक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर बहन के प्रेमी की हत्या कर दी। बाद में मृतक का चेहरा कुचलने के बाद उसका शव नाले में ठिकाने लगा दिया। मृतक की शिनाख्त नरेश कुमार (30) के रूप में हुई है। शुक्रवार शाम को नरेश का शव कल्याणपुरी इलाके के नाले से बरामद हुआ था। पुलिस ने शनिवार को उसकी पहचान कर हत्या के आरोप में लड़की के भाई व उसके दोस्त शिवा को गिरफ्तार कर लिया है। एक अन्य आरोपी फिलहाल अभी फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। मुख्य आरोपी ने खुलासा किया है कि नरेश ने शादीशुदा होने के बाद भी उसकी बहन से संबंध थे। कई बार उसे समझाया गया। नहीं मानने पर उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

पूर्वी जिला के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को ब्लॉक-तीन, कल्याणपुरी के नाले से एक युवक का शव बरामद हुआ था। युवक का चेहरा बुरी तरह पत्थरों से कुचला गया था। मृतक के पास से उसकी पहचान का भी कोई कागजात बरामद नहीं हुआ। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर उसे मोर्चरी में रखवा दिया। इस दौरान पुलिस को पता चला कि ब्लॉक-छह से नरेश नामक युवक गायब है। पुलिस ने परिवार को बुलाकर उसकी पहचान की तो मृतक की पहचान परिजनों ने कर ली। नरेश अपनी मां राजबाला, पत्नी व अन्य सदस्यों के साथ रहता था। वह प्राइवेट नौकरी करता था। पुलिस ने परिवार और लोकल इंटेलिजेंस से पता किया तो पता चला कि नरेश अपनी पत्नी के अलावा भी किसी अन्य लड़की से मिलता है।


आरोपियों ने शराब पीने के बहाने था बुलाया

छानबीन में पता चला कि हत्या में उसी लड़की का भाई व उसके दोस्त शामिल हैं। पुलिस ने छापेमारी कर पहले लड़की के भाई को दबोचा। उसने हत्या करने की बात कबूल कर ली। बाद में उसके साथी शिवा को कभी गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान मुख्य आरोपी ने बताया कि गुरुवार रात को उन्होंने शराब पीने के बहाने नरेश को बुलाया था। बाद में उसकी हत्या कर चेहरे को पत्थरों से कुचल दिया गया। बाद में नरेश की जेब से सारे कागजात निकालकर उसके शव को नाले में ठिकाने लगा दिया।

Post a Comment

0 Comments