Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Jammu and Kashmir: जम्मू-कश्मीर के कठुआ में भारी बारिश के कारण आई अचानक बाढ़ में तीन लोग बहे

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में रविवार को भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ में तीन लोग बह गए। अधिकारियों ने बताया कि ये तीनों लोग जिले के तरनाह नाले में बह गए बचाव अभियान शुरू कर दिया गया है।

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में रविवार को भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ में तीन लोग बह गए। अधिकारियों ने बताया कि ये तीनों लोग जिले के तरनाह नाले में बह गए बचाव अभियान शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इन लोगों की पहचान देव राज (50), बबलू (48) और कमल सिंह (60) के रूप में की गई है। राज्य में लगातार हो रही बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य में चार दिन पहले भी भारी बारिश और बाढ़ के कारण स्कूल-कॉलेज बंद करना पड़ा था। लोगों को घर में रहने की सलाह दी गई थी।


चार दिन पहले रामबन में हुई भारी बारिश

बृहस्पतिवार को जम्मू में भारी बारिश के बाद अचानक बाढ़ आने और मिट्टी धंसने के कारण रामबन जिले में स्कूल और शैक्षणिक संस्थान बंद कर दिए गए। अधिकारियों ने बताया कि चिनाब नदी में जल स्तर खतरे के स्तर 35 फुट से ऊपर चला गया है। जल स्तर और बढ़ने की चेतावनी दी गई है। मिट्टी धंसने के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग भी बंद कर दिया गया था, जिससे सैकड़ों वाहन फंस गए थे। एक अधिकारी ने बताया, ''रामबन जिले में भारी बारिश के मद्देनजर आज सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद रहेंगे। छात्रों को घर पर तथा सुरक्षित रहने की सलाह दी गयी है।''


रोकनी पड़ी थी अमरनाथ यात्रा

लगातार हो रही बारिश और भूस्खलन की वजह से अमरनाथ यात्रा को रोकना पड़ा था। यात्रा मार्ग पर भारी बारिश के बाद लैंडस्लाइड हुआ था। इसके बाद यह कदम उठाया गया। लगातार भारी बारिश के बाद एहतियात के तौर पर पहलगाम और बालटाल दोनों मार्गों से अमरनाथ यात्रा अस्थायी रूप से स्थगित कर दी गई थी। रामबन के बनिहाल इलाके में दो जगहों पर भूस्खलन हुआ था। इसके बाद जम्मू-श्रीनगर हाईवे को बंद कर दिया गया था। पहाड़ों से पत्थर गिरने की वजह से जम्मू से अमरनाथ यात्रियों का जत्था रामबन के चद्रंकोट में एहतियातन रोक दी गई थी।

Post a Comment

0 Comments