Header Google Ads

साउथ सुपरस्टार विजयकांत की कोरोना से मौत,पीएम मोदी ने जताया शोक

दक्षिण भारत के प्रसिद्ध तमिल फिल्म अभिनेता विजयकांत का निधन हो गया है। 


वो राजनीतिक पार्टी देसिया मुरपोक्कू द्रविड़ कड़गम के संस्थापक भी थे। सांस में दिक्कत के कारण विजयकांत को चेन्नई स्थिति एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। अस्पताल से जारी बयान के मुताबिक उन्हें निमोनिया था वहीं पार्टी की तरफ से जारी बयान के मुताबिक वह कोरोना से पीड़ित थे। 71 वर्षीय अभिनेता विजयकांत अपने प्रशंसकों के बीच कैप्टन नाम से जाने जाते थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डीएमडीके प्रमुख विजयकांत के निधन पर श्रद्धांजलि देते हुए दुख जताया है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट शोक संदेश में लिखा है कि ‘विजयकांत के निधन से बेहद दुखी हूं। तमिल फिल्म जगत के एक दिग्गज, उनके करिश्माई प्रदर्शन ने लाखों लोगों का दिल जीत लिया। एक राजनीतिक नेता के रूप में, वह सार्वजनिक सेवा के प्रति गहराई से प्रतिबद्ध थे और उन्होंने तमिलनाडु के राजनीतिक परिदृश्य पर एक स्थायी प्रभाव छोड़ा। उनका निधन एक ऐसा शून्य छोड़ गया है जिसे भरना मुश्किल होगा’


कुछ दिन पहले ही अस्पताल से लौटे थे घर
विजयकांत इलाज के बाद 11 दिसंबर को ही घर वापस आए थे। उन्हें सर्दी और खांसी की काफी दिक्कत थी। एमआईओटी अस्पताल ने उनकी सेहत को लेकर एक बुलेटिन भी जारी किया था। इसमें कहा था कि वह अब पूरी तरह से ठीक हैं और घर लौट गए हैं।


2006 में ली राजनीतिक एंट्री
दक्षिण भारत में अभिनेता से नेता बनने का क्रम नया नहीं है। इसी क्रम में 2006 में विजयकांत ने देसिया मुरपोक्कू द्रविड़ कड़गम पार्टी लांच की थी। 8 प्रतिशत वोट शेयर के साथ विधायक भी बन गए थे। 2011 से 2016 तक वह तमिलनाडु विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता भी रहे। स्वास्थ्य के कारण पार्टी को नुकसान हुआ और फिर सत्ता खो दी। आखिरी बार 18 दिसंबर को डीएमडीके की सामान्य परिषद की बैठक में शमिल हुए थे। इसमें पत्नी वी प्रेमलता को पार्टी प्रमुख के रूप में चुना गया था।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.