Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Congo Attack: अफ्रीकी देश कांगो में बड़ा आतंकी हमला, कम से कम 60 लोगों की मौत, धारदार हथियारों से की गई हत्या

Militia Attack in Congo: अफ्रीकी देश कांगो को एक बार फिर आतंकियों ने निशाना बनाया है. यहां विस्थापित लोगों के कैंप पर हमला किया गया है. जिसमें 60 लोगों की मौत हो गई.


अफ्रीकी देश कांगो (Democratic Republic of Congo) से एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां विस्थापित लोगों के कैंप पर आतंकियों ने हमला (Terrorist Attack) कर दिया है. जिसमें कम से कम 60 लोगों की मौत हो गई. लोगों की धारदार हथियारों से हत्या की गई है. मामले की जानकारी समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने एक स्थानीय एनजीओ (NGO) के प्रमुख और एक गवाह के हवाले से दी है. घटना देश के अशांत इटुरी प्रांत की है. जो देश के पू्र्वी हिस्से में है. यहां मई 2021 से सरकार ने कड़े प्रतिबंध लागू किए हुए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि यह प्रांत खनिज संपन्न है और यहां सशस्त्र समूह खुलेआम घूमते हैं. इन्हीं से मुकाबला करने के लिए प्रांत में तमाम पाबंदियां लगाई गई हैं. क्षेत्र में जारी हिंसा की निगरानी करने वाले किवु सिक्टोरिटी ट्रैकर ने ट्विटर पर बताया, ‘कल रात जुगु क्षेत्र के प्लेन सावो में कम से कम 40 नागरिक धारदार हथियारों से मारे गए हैं.’ हमले की अभी तक किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है. लेकिन केएसटी का कहना है कि इस हमले के पीछे सीओडीईसीओ यानी स्थानीय विद्रोहियों के समूह का हाथ माना जा रहा है.

क्रिसमस पर भी हुआ था हमला

कांगो में इस तरह की घटना पहली बार नहीं हो रहीं, बल्कि इससे पहले क्रिसमस के समय भी लोगों पर हमला हुआ था. तब एक हमलावर ने रेस्तरां को निशाना बनाया था. जिसमें छह लोगों की मौत हो गई. बम विस्फोट के बाद भीषण गोलीबारी भी हुई थी. जिसके कारण वहां मौजूद लोगों ने घबराहट में इधर उधर भागना शुरू कर दिया. ये हमला नार्थ किवू प्रांत में हुआ था. प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता गेन सायवेन इकेंगे (Ekenge Sylvain) ने बाद में बताया था कि सुरक्षाबलों ने जब हमलावर को भीड़ के बीच जाने से रोका, तो उसने खुद को बम से उड़ा लिया.

क्षेत्र में आईएस के आतंकी सक्रिय

नार्थ किवू कांगो का एक ऐसा क्षेत्र है, जहां आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट काफी सक्रिय है. इसके अलावा देश के दूसरे हिस्सों में भी इस तरह के हमले किए जाते हैं. इस देश में विद्रोहियों के भी कई ग्रुप हैं, जो आम नागरिकों पर हमले करते हैं. सरकार इनसे निपटने की कोशिश तो कर रही है, लेकिन इस तरह के हमलों से साफ है कि सरकार की कोशिशें काफी नहीं हैं

Post a Comment

0 Comments