Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

हज यात्री अब मक्का से नहीं ला सकेंगे आब-ए-जमजम, सऊदी सरकार ने किया बैन

 सऊदी अरब सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर कहा है कि हज यात्री अपने साथ आब-ए-जमजम का पानी नहीं ले जा सकते हैं. इस संबंध में सरकार की ओर से नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है.


सऊदी अरब सरकार ने आब-ए-जमजम को लेकर बड़ा फैसला लिया है. सरकार के इस फैसले के बाद हज यात्री अपने साथ आब-ए-जमजम का पानी नहीं ला सकते हैं. सरकार ओर से इस बात की जानकारी नोटिफिकेशन जारी कर दी गई है. नोटिफिकेशन में कहा गया है कि एयरलाइन कंपनियां आब-ए-जमजम को लेकर लगाए गए पाबंदी के फैसले का सख्ती से पालन कराएं. ऐसा नहीं होने पर उनके खिलाफ कार्रवाई होगी.

बता दें कि पहले हज यात्रा पर जाने वाले यात्री अपने साथ 10 लीटर आब-ए-जमजम ला सकते थे. बाद में सरकार ने इसे घटाकर 5 लीटर कर दिया था. लेकिन अब नए नोटिफिकेशन के बाद इस पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है.

एयरपोर्ट पर मौजूद स्टाफ सख्ती से करेगा जांच

नोटिफिकेशन के अनुसार जेद्दा और सऊदी अरब के तमाम एयरपोर्ट पर मौजूद स्टाफ इस बात की जांच सख्ती से करेगा. सरकार की ओर से एयरलाइंस कंपनियों को इस संबंध में जरूरी निर्देश जारी कर दिए गए हैं. 

गौरतलब है कि मक्का की पवित्र मस्जिद अल-हरम से लगभग 66 फीट की दूरी पर एक कुआं है. इस कुएं को जमजम के नाम से जाना जाता है. अरबी में आब का मतलब पानी होता है. इस कुएं से निकले हुए पानी को ही आब-ए-जमजम के नाम से जाना जाता है.

मुस्लिम मानते हैं पवित्र

इस कुएं से लिकले जल को मुस्लिम पवित्र मानते हैं. बताया जाता है कि यह कुआं करीब चार हजार साल पुराना है. बता दें कि उमरा और हज करने वाले यात्री इस जल को अपने साथ लेकर लौटते हैं और अपने सगे-संबंधियों के बीच बांटते हैं.

Post a Comment

0 Comments